S M L

तोगड़िया का हालचाल लेने पहुंचे हार्दिक, कहा- अमित शाह कर रहे साजिश

पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक ने तोगड़िया का समर्थन किया है और वो उनसे मिलने चंद्रमणि अस्पताल भी पहुंचे

Updated On: Jan 16, 2018 04:18 PM IST

FP Staff

0
तोगड़िया का हालचाल लेने पहुंचे हार्दिक, कहा- अमित शाह कर रहे साजिश
Loading...

अहमदाबाद में विश्‍व हिंदू परिषद (वीएचपी) नेता प्रवीण तोगड़िया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर केंद्र सरकार पर निशाना साधा. तोगड़िया ने कहा कि उनकी आवाज दबाने की कोशिश हो रही है. वहीं अब पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक ने तोगड़िया का समर्थन किया है और वो उनसे मिलने चंद्रमणि अस्पताल भी पहुंचे. हार्दिक के साथ कांग्रेस नेता अर्जुन ने भी तोगड़िया से मुलाकात की. हार्दिक ने अस्पताल में तोगड़िया से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना.

तोगड़िया से मुलाकात के बाद हार्दिक ने कहा कि बीजेपी तोगड़िया को परेशान कर रही है. मैं प्रवीण तोगड़िया के साथ हूं. वोट एक अलग मामला है, लेकिन विचारधारा एक है. हम जानते हैं कि अमित शाह और पीएम मोदी क्‍या कर रहे हैं. तोगड़िया के खिलाफ साजिश रची जा रही है. आरएसएस प्रवीण तोगड़िया के खिलाफ है. इससे पहले सोमवार को भी प्रवीण तोगड़िया को लेकर हार्दिक पटेल ने बीजेपी पर निशाना साधा था.

वहीं तोगड़िया ने कहा कि उनकी आवाज दबाने की कोशिश हो रही है. मीडिया से बातचीत के दौरान वे रो पड़े. उन्होंने कहा, मेरी आवाज दबाने की कोशिश हो रही है. मैं हिंदुओं की आवाज उठा रहा हूं और उनकी एकता के लिए काम कर रहा हूं.

उन्होंने कहा, कछ समय से मेरी आवाज दबाने का प्रयास होता रहा. मैं हिंदू एकता के लिए काम करता हूं. राम मंदिर, गौ हत्या कानून और कश्मीर में हिंदुओं के लिए आवाज उठाता हूं. लेकिन खुफिया एजेंसियों ने उन डॉक्टरों को डराना शुरू किया जिन्हें मैंने तैयार किया है. मेरे खिलाफ कानून भंग के केस ढूंढ ढूंढकर निकालना शुरू किया गया. तोगड़िया ने कहा, जो लोग उनके पीछ पड़े हैं उनका सबूतों के साथ पर्दाफाश करूंगा.

सोमवार से प्रवीण तो‍गड़िया का पता न चल पाने पर हार्दिक ने ट्वीट कर कहा था कि Z+ सिक्योरिटी होने के बावजूद भी प्रवीण तोगड़िया जी गायब हो जाते हैं. यह सोचने की बात है कि आम आदमी का क्या हो सकती है. प्रवीण तोगड़िया जी ने पहले भी कहा था की उनकी जान को खतरा है.

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा था कि अगर मनमोहन सरकार में तोगड़िया लापता हो जाते तो बीजेपी पूरे देश में हिंसा कर देती. भक्तों जो बोलना है, वो बोल सकते हैं, क्योंकि इस मुद्दे पर अगर नहीं बोले तो साहब तनख्वाह नहीं देंगे.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi