S M L

जावेड़कर का गठबंधन पर वार, कहा, जीरो-जीरो जुड़कर हीरो नहीं बन सकते

कांग्रेस मुख्य मुद्दों पर बात करना नहीं जानती. उनके प्रेस कांफ्रेंस नोटबंदी, राफेल डील और राम मंदिर के बिना अधूरे हैं

Updated On: Nov 22, 2018 08:13 PM IST

FP Staff

0
जावेड़कर का गठबंधन पर वार, कहा, जीरो-जीरो जुड़कर हीरो नहीं बन सकते

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए गैर-बीजेपी पार्टियों की एकजुटता को जीरो करार दिया है. जावेडकर ने कहा, जीरो-जीरो जुड़कर कभी हीरो नहीं बन सकते. इस गठबंधन के पास कोई एजेंडा नहीं है. इनका केवल इकलौता उद्देश्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सत्ता से हटाना है.

ना ही इस गठबंधन का कोई वैचारिक आधार है और न ही इन लोगों के पास कोई एजेंडा. जावेड़कर ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, गुरुवार को इनकी एक बैठक थी, लेकिन स्थगित हो गई. गठबंधन कभी शुरू नहीं हो सकता, आप कई बार किक भी करते हैं तो भी शुरू नहीं होगा.

कांग्रेस की प्रेस कांफ्रेंस नोटबंदी, राफेल डील और राम मंदिर के बिना पूरी नहीं होती

इंडियन एक्सप्रेस की खबर अनुसार उधर कांग्रेस नेता मनीष तिवारी के आरोपों को जावेड़कर ने खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक पर मोदी और प्रधानमंत्री कार्यालय के निर्देशों पर राज्य विधानसभा को भंग करने का आरोप लगाया था. जावेड़कर ने कहा कि राज्यपाल राष्ट्रपति के परामर्श से निर्णय लेने में सक्षम है.

उन्होंने दावा किया कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में गड़बड़ी पैदा करना चाहता है. यह मुद्दे संवेदनशील हैं इसलिए इनसे आराम से निपटना होगा. उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव जम्मू-कश्मीर में सफलतापूर्वक आयोजित किए गए थे और अब विधानसभा चुनाव आयोजित किए जाएंगे.

कांग्रेस मुख्य मुद्दों पर बात करना नहीं जानती. उनके प्रेस कांफ्रेंस नोटबंदी, राफेल डील और राम मंदिर के बिना अधूरे हैं. कांग्रेस परेशान है क्योंकि रक्षा खरीद सौदे (राफले) में कोई मध्यस्थ नहीं था. नोटबंदी कोई घोटाला नहीं था क्योंकि बैंकों में प्राप्त धन के लिए जिम्मेदार था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi