S M L

बंगाल में ममता पर बरसे मोदी, भीड़ देख बोले- समझ गया कि दीदी हिंसा पर क्यों उतर आई हैं

रैली में उपस्थित भीड़ को देखकर प्रधानमंत्री ने कहा कि अब मुझे समझ आ रहा है कि ममता बनर्जी हिंसा पर क्यों उतर आई हैं

Updated On: Feb 02, 2019 02:26 PM IST

FP Staff

0
बंगाल में ममता पर बरसे मोदी, भीड़ देख बोले- समझ गया कि दीदी हिंसा पर क्यों उतर आई हैं

बजट पेश होने के एक दिन बाद ही प्रधानमंत्री मोदी पश्चिम बंगाल के दौरे पर पहुंचे. उत्तर 24 परगना के ठाकुर नगर में एक रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने ममता बनर्जी और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. रैली में उपस्थित भीड़ को देखकर प्रधानमंत्री ने कहा कि अब मुझे समझ आ रहा है कि ममता बनर्जी हिंसा पर क्यों उतर आई हैं. उन्‍होंने कहा कि हमारे प्रति बंगाल की जनता के प्यार से डरकर लोकतंत्र के बचाव का नाटक करने वाले लोग निर्दोष लोगों की हत्या करने पर तुले हुए हैं.

प्रधानमंत्री की रैली में इतनी ज्यादा भीड़ थी कि जब पीएम भाषण दे रहे थे तब लोगों के बीच धक्का-मुक्की जैसी स्थिति पैदा हो गई. इसे देखकर पीएम मोदी ने कहा कि कार्यकर्ताओं के उत्साह के आगे जगह कम पड़ गई है. उन्होंने जनता से अपील की कि वे जहां हैं वहीं खडे रहे. भीड़ के कारण ही पीएम मोदी को अपना भाषण समयपूर्व ही खत्म करना पड़ा.

जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, 'ये देश का दुर्भाग्य रहा कि आजादी के बाद भी अनेक दशकों तक गांव की स्थिति पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितना देना चाहिए था. यहां पश्चिम बंगाल में तो स्थिति और भी खराब है. हमारी सरकार पिछले 4.5 साल से इसे बदलने के लिए इमानदारी से काम कर रही है. जो बीत गया सो बीत गया. नया भारत इस स्थिति में नहीं रह सकता है.'

ये तो बस शुरुआत, पूर्ण बहुमत में खुलेगा पिटारा

प्रधानमंत्री ने बजट का जिक्र करते हुए कहा, 'कल बजट में जो घोषणाएं की गई है उनसे देश के 12 करोड़ से ज्यादा छोटे किसान परिवारों, 30-40 करोड़ श्रमिकों, मजदूर भाई-बहनों और 3 करोड़ से अधिक मध्यम वर्ग के परिवारों को सीधा लाभ मिलेगा.'

रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह तो बस शुरुआत है. पूर्ण बहुमत की सरकार बनने के बाद पूरा बजट पेश किया जाएगा तब युवाओं, किसानों और समाज के हर वर्ग के लिए हमारे पास बहुत कुछ होगा. उन्होंने जनता से कहा कि अब आपको समझ में आ गया होगा कि मैं जनधन अकाउंट क्यों खुलवा रहा था.

पीएम मोदी ने बांग्लादेश से आए मटुआ समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा, 'हिंदुस्तान आजाद होने के बाद देश के टुकड़े किए गए. सांप्रदायिक दुर्भावना से लोगों पर अत्याचार हुए. बांग्लादेश, पाकिस्तान से लोगों को भागकर आना पड़ा. हम नागरिकता का कानून लाए हैं. मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं कि संसद में यह कानून पारित होने दीजिए, इससे जनता को उनका अधिकार मिलेगा.'

2.5 लाख का वादा और माफ किया 13 रुपए

प्रधानमंत्री ने इस जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की किसान कर्ज माफी योजना सिर्फ राजनीति के लिए थी. कांग्रेस ने किसानों के आंखों में धूल झोंकी है. उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले कर्जमाफी की घोषणा होती थी. इसका लाभ कुछ ही किसानों को मिलता था. जिनका कर्ज माफ होता था वे भी कुछ साल में फिर से कर्जदार बन जाते थे.

पीएम मोदी ने कांग्रेस की कर्जमाफी योजना पर कहा कि वादा किया गया था कि 2.5 लाख का कर्ज माफ होगा. लेकिन मध्य प्रदेश में 13 रुपए का कर्ज माफ हुआ. वहीं राजस्थान में तो सरकार ने हाथ ही खड़े कर दिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi