S M L

बागपत रैली में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

125 करोड़ देशवासियों का जीवन स्तर ऊपर उठाने में देश के आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है. यही सबका साथ, सबका विकास का रास्ता है, क्योंकि इंफ्रास्ट्रक्चर जात-पात, पंथ-संप्रदाय, ऊंच-नीच, अमीर-गरीब में भेद नहीं करता

Updated On: May 27, 2018 03:14 PM IST

FP Staff

0
बागपत रैली में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे का उद्घाटन किया. पीएम मोदी ने इस मौके पर भाषण देते हुए केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों के बारे में बताया और विपक्ष पर जमकर निशाना साधा.

ये रही बागपत रैली में पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें-

- ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे की खासियत बताते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे बनाने में सरकार ने 11 हजार करोड़ रुपए खर्च किए हैं. यह हाईवे आधुनिक और नागरिकों के लिए सुविधाजनक है. आज जब इस नई सड़क पर चलने का अवसर मुझे मिला तो अनुभव किया कि 14 लेन का सफर दिल्ली-NCR के लोगों के जीवन को कितना सुगम बनाने वाला है. कहीं कोई रुकावट नहीं, एक से एक आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल, कंक्रीट के साथ हरियाली का भी मेल.

- हमारी सरकार ने प्रदूषण की समस्या को गंभीरता से लेते हुए दिल्ली के चारों ओर Expressway का एक घेरा बनाने का बीड़ा उठाया. ये दो चरणों में बनाया जा रहा है. इसमें से एक चरण यानी Eastern Peripheral Express way का भी थोड़ी देर पहले लोकार्पण किया गया है.

- 125 करोड़ देशवासियों का जीवन स्तर ऊपर उठाने में देश के आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है. यही सबका साथ, सबका विकास का रास्ता है, क्योंकि इंफ्रास्ट्रक्चर जात-पात, पंथ-संप्रदाय, ऊंच-नीच, अमीर-गरीब में भेद नहीं करता.

- रैली में पीएम मोदी ने यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार की तारीफ की. प्रधानमंत्री ने कहा- अपराधी अब खुद पुलिस के सामने सरेंडर कर रहे हैं.

- दलित और पिछड़े भाई-बहनों के लिए अवसरों के साथ-साथ उनकी सुरक्षा और न्याय के लिए भी बीते 4 वर्षों में हमारी सरकार ने कई काम किए हैं. दलितों पर अत्याचार के कानून को हमने और कड़ा किया है.

- विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए पीएम मोदी ने कहा कि इन्हें (विपक्षी पार्टियों) देश का विकास भी मजाक लगता है. उन्हें स्वच्छ भारत के लिए किया गया काम मजाक लगता है, उन्हें गरीब महिला के लिए बनाया गया शौचालय मजाक लगता है. सच्चाई यह है कि गरीबों के लिए, दलितों-पिछड़ों-आदिवासियों के लिए जो भी कार्य किया जाता है, कांग्रेस और उसके साथ चलने वाले दल या तो उसमें रोड़े अटकाने लगते हैं, या उसका मजाक उड़ाते हैं.

- उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि एक परिवार की पूजा करने वाले कभी लोकतंत्र की पूजा नहीं कर सकते. ये लोग सर्जिकल स्ट्राइक करने वाली देश की सेना के साहस को भी नकारते हैं. जब इंटरनेशनल एजेंसिज, हिंदुस्तान की तारीफ करते हैं तो ये उनके पीछे भी डंडा लेकर दौड़ पड़ते हैं.

- पीएम ने विपक्ष पर देश के लोगों को भ्रमित करने का आरोप लगाते हुए कहा कि आज देश के लोग देख रहे हैं कि अपने सियासी फायदे के लिए ये लोग सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर भी खुलेआम झूठ बोल जाते हैं. चाहे दलितों पर अत्याचार से जुड़े कानून की बात हो या फिर आरक्षण की बात, झूठ बोलकर, अफवाह फैलाकर यह लोगों को भ्रमित करने की साजिश करते रहे हैं.

- पीएम ने कहा कि आप सभी के सहयोग से, 125 करोड़ देशवासियों के कंधों से कंधा मिलाकर एक भारत, श्रेष्ठ भारत का हमारा संकल्प और मजबूत होगा.

- गन्ना किसानों पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'मैं इलाके के गन्ना किसानों को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि सरकार उनकी दिक्कतों के प्रति संवेदनशील है और बहुत कड़ाई के साथ गन्ना किसानों की समस्याओं को दूर करने के लिए प्रतिबद्ध है'. यहां (पश्चिमी यूपी) के गन्ना किसानों के लिए भी हमारी सरकार निरंतर कार्य कर रही है. पिछले वर्ष ही हमने गन्ने का समर्थन मूल्य लगभग 11 प्रतिशत बढ़ाया था. इससे गन्ने के 5 करोड़ किसानों को सीधा लाभ हुआ था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi