S M L

नगालैंड चुनाव : पीएम मोदी ने फिर दोहराया 'डबल इंजन' फॉर्मूला

दरअसल केंद्र की कोशिश है कि नॉर्थ-ईस्ट के सभी राज्यों को देश के अन्य राज्यों से हर हाल में जोड़ा जाए. कनेक्टिविटी पर फोकस कर ही नॉर्थ-ईस्ट के विकास पर जोर है

Updated On: Feb 22, 2018 04:57 PM IST

Amitesh Amitesh

0
नगालैंड चुनाव : पीएम मोदी ने फिर दोहराया 'डबल इंजन' फॉर्मूला

नगालैंड में 27 फरवरी को वोटिंग है. बीजेपी ने यहां इस बार नेशनल प्रोग्रेसिव डेमोक्रेटिक पार्टी यानी एनपीडीपी के साथ समझौता किया है. दोनों पार्टियां मिलकर चुनाव मैदान में उतरेंगी. बीजेपी और उसकी सहयोगी एनपीडीपी के पक्ष में चुनाव प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को नगालैंड के तुएनसांग पहुंचे.

पीएम ने दिया डबल इंजन का फॉर्मूला

अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने नगालैंड के लोगों से बीजेपी और सहयोगी पार्टी की सरकार बनाने की अपील की. मोदी ने नगावासियों को भरोसा दिलाया कि नगालैंड में अगर बीजेपी एलायंस की सरकार बनेगी तो दिल्ली की मौजूदा सरकार के साथ मिलकर राज्य का विकास और तेजी से होगा. मोदी हर राज्य में इस फॉर्मूले को डबल इंजन वाली सरकार का फॉर्मूला बताते रहे हैं.

नगालैंड की महान परंपरा और सभ्यता-संस्कृति को विविधता में एकता का अनूठा उदाहरण बताकर मोदी ने हर क्षेत्र में नगा लोगों के योगदान को याद किया. 'न्यू इंडिया' के साथ-साथ न्यू नगालैंड के सपने को साकार करने का वादा कर मोदी ने नगा लोगों से वोट की अपील की.

पिछले चार साल में नगालैंड में लगातार अस्थिर सरकार बनती रही है. पीएम मोदी ने राज्य के लोगों से इस बार स्थिर सरकार के लिए वोट की अपील की.

प्रधानमंत्री ने नगालैंड के विकास को लेकर यहां के लोगों को सपने दिखाए. अपनी रैली के दौरान उन्होंने भ्रष्टाचार पर प्रहार किया. उन्होंने कहा, हमारी कोशिश है कि सभी लूपहोल खत्म होकर पैसा सीधे आपके पास पहुंचे.

tripura modi

नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों को जोड़ने पर फोकस

केंद्र सरकार ने बीते चार साल में नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में विकास पर फोकस किया है. इसके लिए मोदी ने नारा दिया है- ‘ट्रांसफॉरमेशन बाय ट्रांसपोर्टेशन.’ दरअसल केंद्र की कोशिश है कि नॉर्थ-ईस्ट के सभी राज्यों को देश के दूसरे राज्यों से हर हाल में जोड़ा जाए. कनेक्टिविटी पर फोकस कर ही नॉर्थ-ईस्ट का विकास किया जा सकता है. प्रधानमंत्री का नारा भी उसी का परिचायक है.

नगालैंड के लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने पिछले चार साल में अपनी सरकार की तरफ से उठाए गए विकास कार्यों का जिक्र किया. पीएम मोदी ने कहा कि हमने नगालैंड में 500 किलोमीटर के नए सड़क का निर्माण कराया. आज 6000 करोड़ रुपए से ज्यादा के प्रोजेक्ट चल रहे हैं. आने वाले दिनों में 10 हजार करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट पर काम होगा.

सौभाग्य योजना की कामयाबी और उसके जरिये नगालैंड के भी कई गांवों में बिजली पहुंची है, जहां आजादी के बाद से ही अंधेरा ही छाया था. एक बार फिर उन्होंने वादा किया कि अंधेरे में रहने वाले नगालैंड के एक लाख परिवारों तक सौभाग्य योजना के अंतर्गत बिजली पहुंचाने की कोशिश होगी और कनेक्शन मुफ्त में दिया जाएगा. फिलहाल नगालैंड के तीस लाख घरों के 40 फीसदी घरों में बिजली कनेक्शन नहीं है.

पीएम ने बताया, नगालैंड को क्या-क्या दिया

पीएम मोदी ने कोहिमा को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए 1800 करोड़ रुपए, 2022 तक नगालैंड में सबको घर मुहैया कराने के लिए 1060 करोड़ रुपए और नेशनल हेल्थ मिशन के लिए 400 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि दिए जाने को बड़ी उपलब्धि के तौर पर पेश किया.

नॉर्थ-ईस्ट के विकास के लिए ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा देने और बांस की खेती के लिए नेशनल बंबू मिशन के तहत इस बार के बजट में 1300 करोड़ रुपए दिए जाने को भी पीएम ने नगालैंड के विकास के लिए बड़ी कोशिश बताया.

PM Modi Arunachal Visit

नगा समस्या के समाधान के लिए केंद्र सरकार की तरफ से किए जा रहे प्रयासों का जिक्र कर प्रधानमंत्री ने एक बार फिर सभी पक्षों से बातचीत का दरवाजा खोलने की बात की. उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले कुछ महीने में इस समस्या को खत्म करने की कोशिश की जा रही है. मोदी ने कहा कि हमने बातचीत का दरवाजा हमेशा खुला रखा है. यहां की सिविल सोसायटी और बाकी लोगों से बात करने के लिए सरकार हमेशा तैयार रही है.

मोदी सरकार पहले से ही एक्ट ईस्ट पॉलिसी पर काम करती रही है. देश के पश्चिमी क्षेत्र की बराबरी में पूर्वी क्षेत्र को लाकर पूरे भारत के विकास का दावा करने वाले पीएम मोदी ने एक बार फिर से नॉर्थ-ईस्ट की उपेक्षा के लिए पहले की सरकारों की सोच को जिम्मेदार ठहरा दिया.

अब देखना है कि मोदी की रैली और विकास के दावे व वादे पर नगालैंड की जनता कितना यकीन करती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi