S M L

कांग्रेस के समय 15 पैसे का काम होता था, आज सौ पेसे का हो रहा है: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि राजनीतिक स्थिरता की ताकत है कि आज छत्तीसगढ़ अपनी इच्छा के मुताबिक फैसले ले रहा है, जनता का आशीर्वाद है जिसके कारण रमन सिंह को दिल्ली की ओर नहीं देखना पड़ता है

Updated On: Sep 22, 2018 10:31 PM IST

Bhasha

0
कांग्रेस के समय 15 पैसे का काम होता था, आज सौ पेसे का हो रहा है: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भ्रष्टाचार और किसानों के हितों को नजरअंदाज करने के लिए शनिवार को कांग्रेस पर निशाना साधा. छत्तीसगढ़ में बीजेपी के लिए एक तरह से चुनावी बिगुल फूंकते हुए उन्होंने कहा कि राज्य के लोग स्थिर सरकार चुनने के लिए परिपक्व हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित राज्य ने दिखाया है कि स्थिर सरकार के साथ विकास संभव है.

किसानों की रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि केंद्र और छत्तीसगढ़ में बीजेपी नीत सरकारों का एकमात्र लक्ष्य गरीब और आम लोगों का कल्याण करना है. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ को पहले जंगल, आदिवासी, आतंकवाद और नक्सलवाद के लिए जाना जाता था.

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘राज्य से अपहरण, बम, पिस्तौल और दिग्भ्रमित युवाओं के रक्तपात की खबरें आती थी लेकिन बीजेपी नीत छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य को विकास के पथ पर तेजी से ले जाने के लक्ष्य के साथ इन सभी चुनौतियों का साहस से सामना किया.’ उन्होंने कहा, ‘हमारी नीतियां साफ है और इरादे नेक हैं.’ दिल्ली हो या रायपुर सबका समग्र विकास सुनिश्चित करने का लक्ष्य है.

मोदी ने कहा कि आमतौर पर छोटे राज्यों में राजनीतिक अस्थिरता का दौर बहुत चलता है. लेकिन, छत्तीसगढ़ के लोग इतने समझदार हैं कि उनके निर्णय में कभी चूक नहीं रही, कभी गलती नहीं रही. उसी का परिणाम है कि अवरोधों, आशंकाओं, अनर्गल आरोपों के बीच भी छत्तीसगढ़ी का मन नहीं हिला तथा छत्तीसगढ़ की जनता नहीं डोली. उसी का परिणाम रहा कि छत्तीसगढ़ ने लगातार स्थिर सरकार दी.

राजनीतिक स्थिरता के कारण हो रहा छत्तीसगढ़ का विकास

राजनीतिक स्थिरता की ताकत है कि आज छत्तीसगढ़ अपनी इच्छा के मुताबिक फैसले ले रहा है. यह यहां की जनता का आशीर्वाद है. जिसके कारण मुख्यमंत्री रमन सिंह को दिल्ली की ओर नहीं देखना पड़ता है. यहां के लोगों के परिश्रम से और यहां के संसाधनों के भरोसे से छत्तीसगढ़ को नई ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं. इसके मूल में राजनीतिक स्थिरता है और इसके मूल में छत्तीसगढ़ी लोगों का दूर दृष्टिपूर्ण निर्णय है.

इसके मूल में छत्तीसगढ़ी लोगों की लोकतंत्र के प्रति श्रद्धा, चुनी हुई सरकार के प्रति विश्वास है. पूर्ण बहुमत के साथ स्थिर सरकार बनाने का लाभ क्या होता है, इसको यहां के लोग समझते हैं. कभी बड़े बड़े शहर के लोग भी गलती कर बैठते हैं, छत्तीसगढ़ के लोग नहीं करते हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस के एक प्रधानमंत्री कह कर गए हैं कि दिल्ली से एक रुपए निकलता है गांव में पहुंचते-पहुंचते 15 पैसा हो जाता है. आज जो विकास हो रहा है उसका एक कारण यह है कि रुपए तो वही है लेकिन पहले 15 पैसे का काम होता था आज एक सौ पैसों का काम हो रहा है. इसलिए काम नजर आ रहा है. हर क्षेत्र में विकास हो रहा है.

प्रधानमंत्री ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि किसान को भी बेहतर जिंदगी चाहिए, उनके बच्चों के लिए बेहतर शिक्षा चाहिए. हमने किसानों का सर्वांगीण विकास करने का फैसला किया है. हमने किसानी के काम को बेहतर का बनाने का प्रयास किया है. किसानों को बेहतर बीज मिल रहे हैं, मिट्टी की जांच हो रही है.

हमने एमएसपी बढ़ाकर किया डेढ़ गुना

मोदी ने कहा कि किसान अपनी फसलों के लागत मूल्य का डेढ गुना मांग रहा था. लेकिन किसी सरकार ने ऐसा नहीं किया. जब हमारी सरकार बनी तब हमने किसानों के लागत मूल्य का डेढ़ गुना देने का फैसला किया. हमने किसानों के जीवन को सुरक्षित बनाया है, आज उनकी फसल का ज्यादा दाम दाम मिल रहा है.

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ की जनता को सड़क और रेल परियोजना की सौगात दी. मोदी ने जांजगीर में बिलासपुर-पथरापाली फोरलेन सड़क और बिलासपुर-अनूपपुर तीसरी रेललाइन परियोजना का भूमिपूजन और शिलान्यास किया.

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रमन सिंह, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग विकास मंत्री नितिन गड़करी, केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री विष्णुदेव साय, छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल सहित छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्रीगण मौजूद थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi