S M L

राज्य में उसी की सरकार होनी चाहिए जिसकी केंद्र में: पीएम मोदी

जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि बतौर मुख्यमंत्री उन्हें कांग्रेस नेतृत्व वाली संप्रग सरकार के हाथों दुख झेलना पड़ा था

Updated On: Oct 23, 2017 03:01 PM IST

FP Staff

0
राज्य में उसी की सरकार होनी चाहिए जिसकी केंद्र में: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने गृह राज्य गुजरात में लोगों को केंद्र में सत्तारूढ़ दल से अलग दल की सरकार को राज्य में चुनने से होने वाले संभावित नुकसानों के बारे में अप्रत्यक्ष रूप से चेताया.

जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि बतौर मुख्यमंत्री उन्हें कांग्रेस नेतृत्व वाली संप्रग सरकार के हाथों दुख झेलना पड़ा था. क्योंकि वह सरकार गुजरात विरोधी और विकास विरोधी रवैये के कारण विकास प्रस्तावों को दबाकर बैठ गई.

'अभी तक आपका काम नहीं हुआ'

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की नकल उतारते हुए धीमी आवाज में नरेंद्र मोदी ने कहा कि हर बार जब भी मैं नर्मदा बांध के लिए जलद्वार बिछाने का अनुरोध लेकर उनके पास गया, तो वह कहते, अभी तक आपका काम नहीं हुआ.

प्रगति तभी होगी जब राज्य और केन्द्र सरकार एक हो

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रगति केवल तभी हासिल हो सकती है जब केंद्र और राज्य में समान दल की सरकार हो और केंद्र को राज्य सरकार के हितों के प्रति सहानुभूति हो. यदि अटलजी की सरकार केंद्र में नहीं होती, तो गुजरात कभी भी विनाशकारी भूकंप (जनवरी 2001) से नहीं उबर पाता. केंद्र केशुभाई पटेल सरकार के साथ दृढ़ता से खड़ा था.

फिर, मोदी ने केंद्र में मोरारजी देसाई सरकार और गुजरात में बाबूभाई जशभाई सरकार के साथ-साथ दिल्ली में अटल बिहारी वाजपेयी और गुजरात में उनके शासन और केशुभाई पटेल के शासन के उदाहरणों का हवाला दिया.

मोदी ने कहा, गुजरात को केंद्र की उस सरकार से लाभ उठाने का एक भी मौका नही छोड़ना चाहिए जो राज्य के प्रति सहानुभूति रखती हो.

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर साधा निशाना

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना भी साधा और कहा कि उस समय के दौरान एकमात्र समाचार बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार का होता था. एक लाख करोड़ रुपए चले गए, दो लाख रुपये चले गए, कोयला, पनडुब्बी, हेलीकॉप्टर..सब चीजों में भ्रष्टाचार था. जब से मैं आया हूं, तो अब वे पूछते रहते हैं कि कितना पैसा आया है.

(एजेंसी से रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi