S M L

मोदी उदार नेता तो नीतीश ‘इंतजाम बहादुर’ बन कर उभरे

गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के 350 वें प्रकाश पर्व के आयोजन की पूर्ण सफलता के लिए प्रधानमंत्री ने नीतीश कुमार की जम कर तारीफ की

Updated On: Jan 06, 2017 05:52 PM IST

Surendra Kishore Surendra Kishore
वरिष्ठ पत्रकार

0
मोदी उदार नेता तो नीतीश ‘इंतजाम बहादुर’ बन कर उभरे

पटना में एक साथ दो अजूबी बातें हुईं. कुछ बड़े नेताओं की विरोधियों के प्रति अति उदारता और बिहार जैसे राज्य में एक बड़े समारोह का त्रुटिहीन और सफल आयोजन.

इस देश की मौजूदा कर्कश राजनीति के बीच इसे अजूबा ही तो माना जाएगा! गुरु गोविंद सिंह जी महाराज के 350 वें प्रकाश पर्व के आयोजन की पूर्ण सफलता के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पटना के समारोह में मुख्य मंत्री नीतीश कुमार की खुले दिल से जम कर तारीफ की. तारीफ के मुद्दे एक से अधिक रहे.

दूसरी ओर मुख्यमंत्री ने भी गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में शराबबंदी को ठीक से लागू करने के लिए नरेंद्र मोदी की तारीफ की. याद रहे कि मोदी जी बिहार में शराबबंदी लागू करने के नीतीश सरकार के फैसले की तारीफ करना नहीं भूले.

पहली अजूबी बात यह कि एक ऐसे राज्य में इतना बड़ा अंतर्राष्ट्रीय समारोह पूर्ण सफलता के साथ आयोजित किया गया, जिस राज्य के बारे में बाहर यह राय बनी हुई है कि वहां का सिस्टम ध्वस्त है.

याद रहे कि इस प्रकाशोत्सव के सफल आयोजन पर पंजाब के एक अकाली नेता ने तो यहां तक कह दिया कि ऐसा सफल आयोजन तो हम पंजाब में भी नहीं कर सकते थे.

इससे यह पता चला कि नीतीश कुमार जिस चीज में खुद हाथ लगा देते हैं, वह सफल हो जाता है. प्रधानमंत्री ने मंच से कहा कि मुझे पता चलता रहता था कि मुख्यमंत्री खुद गांधी मैदान पहुंच कर तैयारी की छोटी-छोटी बातों की भी निगरानी करते रहे.

Patna: Prime Minister Narendra Modi being received by the Governor of Bihar, Ram Nath Kovind and the Chief Minister Nitish Kumar on his arrival in Patna on Thursday. PTI Photo (PTI1_5_2017_000198B)

याद रहे कि प्रकाशोत्सव पर त्रुटिविहीन आयोजन की सफलता को लेकर प्रकाश सिंह बादल और कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी मुक्त कंठ से नीतीश कुमार की सराहना की है.

परस्पर विरोधी दलों के शीर्ष नेताओं द्वारा एक दूसरे की ऐसी तारीफ तो नई पीढ़ी ने पहली बार देखी है. एक लाइन में यही कहा जा सकता है कि नीतीश कुमार ने अपने अफसरों तथा अन्य संबंधित लोगों के साथ मिलकर वैसी ही तैयारी की थी जैसी तैयारी किसी बारात की होती है.

महीनों से तैयारी चल रही थी. इस अवसर के लिए कुछ स्थायी संरचनाएं भी राज्य सरकार ने तैयार की दी. अतिक्रमण के कारण निरंतर जाम को लेकर कुख्यात पटना सिटी इलाके का अतिक्रमण पूरी तरह हटा दिया गया है.

हालांकि अब आगे का भगवान जाने! पता नहीं कि गुरु की नगरी पटना सिटी को आगे भी अतिक्रमण मुक्त बनाये रखने के लिए खुद नीतीश कुमार को कितना समय मिलेगा.

याद रहे कि गुरु गोविंद सिंह का जन्म पटना सिटी इलाके में ही हुआ था. वहां का श्री हरिमंदिर जी दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा तख्त है.

प्रकाशोत्सव के इस अवसर पर स्थानीय लोगों ने जिनमें कई नेतागण भी शामिल थे श्रद्धालुओं की सेवा की. स्थानीय लोग भी सफाई पर उसी तरह से ध्यान देते देखे गये मानो यह भी छठ पर्व हो.

Patna: A vehicle carrying Guru Granth Sahib during the Nagar Kirtan procession, in Patna on Wednesday. PTI photo (PTI1_4_2017_000103B)

थके मांदे श्रद्धालुओं के चेहरों पर भी खुशी देखी गई. उन लोगों ने मीडिया के सामने भी बेहतर इंतजाम के लिए खुशी का इजहार किया.

इस अवसर से नीतीश कुमार श्रेष्ठ ‘इंतजाम बहादुर’ बन कर उभरे तो नरेंद्र मोदी ने खुल मन से नीतीश की सराहना करके राजनीति में उदारता का परिचय दिया.

पर एक बात जरूर हुई कि मोदी की इस सराहना से बिहार राजग के कुछ राष्ट्रीय व स्थानीय नेतागण जल-भुन गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi