S M L

गाजीपुर में PM मोदी ने भरी हुंकार, कांग्रेस को बताया लॉलीपॉप पकड़ाने वाली पार्टी

प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोलते हुए शनिवार को कहा कि वोट बटोरने के लिए लुभावने वादों का हश्र मध्य प्रदेश और राजस्थान में दिखने लगा है और वहां काला बाजारी करने वाले मैदान में आ गए हैं

Updated On: Dec 29, 2018 04:36 PM IST

Bhasha

0
गाजीपुर में PM मोदी ने भरी हुंकार, कांग्रेस को बताया लॉलीपॉप पकड़ाने वाली पार्टी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जोरदार हमला बोलते हुए शनिवार को कहा कि वोट बटोरने के लिए लुभावने वायदों का हश्र मध्य प्रदेश और राजस्थान में दिखने लगा है और वहां काला बाजारी करने वाले मैदान में आ गए हैं.

मोदी ने गाजीपुर में महाराज सुहेलदेव पर डाक टिकट जारी करने और गाजीपुर में राजकीय मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास करने के बाद एक जनसभा में कहा, ‘वोट बटोरने के लिए लुभावने उपायों का हश्र क्या होता है वह अभी मध्य प्रदेश और राजस्थान में दिख रहा है.’ उन्होंने कहा, ‘सरकार बदलते ही वहां अब खाद और यूरिया के लिए कतारें लगने लगी हैं. लाठियां चलने लगी हैं और काला बाजारी करने वाले मैदान में आ गये हैं.’

मोदी यहीं नहीं रुके, बल्कि कांग्रेस को ‘लॉलीपॉप’ पकड़ाने वाली पार्टी बताया. उन्होंने कहा, ‘कर्नाटक में लाखों किसानों की कर्ज माफी का वादा किया गया था... ये सच्चाई समझिए... कर्नाटक में अभी अभी कांग्रेस ने पिछले दरवाजे से सरकार बनाई. लॉलीपॉप पकड़ा दिया था... कर्ज माफी का वादा किया था.’

उन्होंने कहा कि लाखों किसानों का कर्ज माफ होना था लेकिन किया कितना? ‘बताऊं... आप हैरान हो जाएंगे. लाखों किसानों की कर्ज माफी का वादा किया गया. वोट लिए गए और पिछले दरवाजे से सरकार बना ली गई. लेकिन दिया सिर्फ 800 लोगों को. ये कैसे वादे, ये कैसे खेल, किसानों के साथ कैसा धोखा हो रहा है.’

Modi In Ghazipur

प्रधानमंत्री ने कहा कि तात्कालिक राजनीतिक लाभ के लिए जो वादे किए जाते हैं और जो फैसले लिए जाते हैं, उनसे देश की समस्याओं का स्थाई समाधान नहीं हो सकता. ‘2009 के चुनाव से पहले क्या हुआ था, आप सभी उसके साक्षी हैं. 2009 के चुनाव के पहले भी ऐसे ही लॉलीपॉप पकड़ाने वालों ने कर्ज माफी का वादा किया था. देश भर के किसानों की कर्ज माफी का वादा किया था.’ उन्होंने कहा, ‘मैं यहां के किसानों से पूछना चाहता हूं कि क्या आपका कर्ज माफ हुआ... आपके खाते में पैसा आया क्या... आपको कोई मदद मिली क्या.’

यह भी पढ़ें- 2013 में अध्यादेश फाड़ने के बाद राहुल गांधी और मनमोहन के बीच कैसे अच्छे हुए रिश्ते!

मोदी ने कहा कि वादा किया, फिर सरकार बनी लेकिन किसानों को भुला दिया गया. उन्होंने भीड़ से सवाल किया, ‘लॉलीपाप कंपनी पर भरोसा करोगे क्या? झूठ बोलने वालों और जनता से धोखा करने वालों पर भरोसा करोगे क्या? चौकीदार की वजह से कुछ चोरों की रातों की नींद उड़ गई है. आपके आशीर्वाद से एक दिन ऐसा आएगा, जब इन चोरों को सही जगह पर ले जाएगा.’

उन्होंने कहा कि तब किसानों पर 6 लाख करोड़ रुपए का कर्ज था लेकिन सरकार बनने के बाद ड्रामेबाजी की गई और किसानों की आंख में धूल झोंकी गई. छह लाख करोड़ रुपए का कर्ज था और माफ किए गए सिर्फ सात हजार करो़ड़ रुपए. जब सीएजी (भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक) की रिपोर्ट आई तब पता लगा कि उसमें से भी बहुत बड़ी रकम ऐसे लोगों के घर में गई जो ना किसान थे, जिन पर ना कर्ज था और जो ना ही कर्ज माफी के हकदार थे.

PM Modi In Ghazipur

मोदी ने कहा कि जिनका कर्ज माफ हुआ भी, उनमें से लाखों लोगों को सर्टिफिकेट नहीं दिया गया जिसके चलते उसका ब्याज चढ़ता गया. बाद में किसान को ब्याज सहित कर्ज देना पड़ा, ये पाप इन्होंने (कांग्रेस ने) किया है. इस प्रकार की कर्ज माफी का लाभ कम से कम किसानों को तो नहीं हुआ.

उन्होंने कहा, ‘इसलिए मेरा आग्रह होगा कि कांग्रेस के इस झूठ और बेईमानी से सतर्क रहिए. कांग्रेस सरकार ने तो स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू नहीं किया था. कांग्रेस के चलते ही किसानों को लागत का डेढ़ गुना दाम देने वाली फाइल दबी रही. आज से 11 साल पहले अगर स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू किया गया होता, लागत का डेढ़ गुना दाम तय किया गया होता तो आज किसान कर्जदार होता ही नहीं. लेकिन कांग्रेस ने फाइल दबाए रखी, किसान को दाम नहीं दिया, एमएसपी नहीं दिया. कांग्रेस के पापों का परिणाम है कि किसान बर्बाद और कर्जदार हो गया.’ प्रधानमंत्री ने कहा कि उस फाइल को बीजेपी सरकार ने बाहर निकाला और दाम सहित 22 फसलों का एमएसपी लागत का डेढ़ गुना तय किया.

यह भी पढ़ें- गोवर्धन झड़ापिया ने किसे बताया था 'शिवलिंग पर बैठा बिच्छू', वीडियो वायरल

मोदी ने अपनी सरकार की कार्यप्रणाली का जिक्र करते हुए कहा कि वोट के लिए तात्कालिक घोषणाओं और फीते काटने की परंपरा को हमारी सरकार ने पूरी तरह बदला है. सरकार के संस्कार और व्यवहार में परिवर्तन दिख रहा है. यही कारण है कि गरीब से गरीब की भी मांग सुनने का रास्ता खुला है. अभी यह शुरुआती दौर है. अभी एक ठोस आधार बना है. इसी नींव पर मजबूत इमारत तैयार करने का काम अभी बाकी है.

New Delhi: Prime Minister Narendra Modi  during a ceremonial reception of Bhutanese Prime Minister  Lotay Tshering  during their ceremonial reception at Rashtrapati Bhawan, in New Delhi, Friday, Dec 28, 2018.  (PTI Photo/Kamal Singh)(PTI12_28_2018_000035B)

मोदी ने कहा, ‘आने वाला समय आपका है, आपके बच्चों का है, युवा पीढ़ी का है. आपके भविष्य को संवारने के लिए और आपके बच्चों का भविष्य बनाने के लिए आपका यह चौकीदार बहुत ईमानदारी और बहुत लगन के साथ दिन रात एक कर रहा है.’

उन्होंने कहा, ‘आप अपना विश्वास और आशीर्वाद इसी तरह बनाए रखिए क्योंकि चौकीदार की वजह से कुछ चोरों की रातों की नींद उड़ गई है. मुझ पर आपका विश्वास और आशीर्वाद रहा तो एक दिन ऐसा आएगा जब इन चोरों को सही जगह तक ले जाया जाएगा.’ मोदी ने कहा कि विकास की पंचधारा यानी ‘बच्चों को पढाई, युवा को कमाई, बुजुर्ग को दवाई, किसान को सिंचाई और जन जन की सुनवाई’ ये मजबूत कड़ियां हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi