S M L

3 मार्च के बाद त्रिपुरा से कम्युनिस्टों का निशान मिट जाएगा- पीएम मोदी

त्रिपुरा जाने से पहले पीएम मोदी अरुणाचल प्रदेश जाएंगे, चीन से हुए डोकलाम विवाद के बाद उनका राज्य का यह पहला दौरा होगा

| February 15, 2018, 10:26 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Feb 15, 2018

  • 17:17(IST)

    भारत माता की जय के नारे के साथ प्रधानमंत्री मोदी ने त्रिपुरा में चुनावी संबोधन समाप्त किया.

  • 17:16(IST)

    भारी मात्रा में मतदान करें, पहले मतदान फिर जलपान- पीएम मोदी

  • 17:12(IST)

    2022 तक हिंदुस्तान के हर इंसान के पास अपना घर होना चाहिए -पीएम मोदी

  • 17:11(IST)

    गरीब से गरीब के घर में मुफ्त में बिजली दी जाएगी- पीएम

  • 17:08(IST)

    बीजेपी की सरकार बनने के बाद त्रिपुरा के सभी सरकारी मुलाजिमों के लिए सातवां वेतन आयोग लागू कर दिया जाएगा- पीएम मोदी

  • 17:07(IST)

    त्रिपुरा में अभी भी सरकारी मुलाजिमों को चौथे वेतन आयोग के हिसाब से वेतन मिल रहा है - पीएम

  • 17:05(IST)

    इस बार त्रिपुरा में जो सरकार बनेगी वह सबसे कम उम्र वाली सरकार होगी- पीएम मोदी

  • 16:55(IST)

    यहां की सरकार केंद्र की ओर से दिए गए पैसों को भी खर्च नहीं कर पाई. त्रिपुरा में अगर 100 रुपए खर्च होता है, तो उसमें से 80 रुपए केंद्र खर्च करती है- पीएम

  • 16:43(IST)

    मुझे विश्वास है कि चुनाव आयोग यहां निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव करवाएगा- पीएम

  • 16:42(IST)

    3 तारीख के बाद त्रिपुरा की धरती पर कम्युनिस्टों का नामोनिशान नहीं रहेगा- पीएम

  • 16:41(IST)

    'मैं इस प्यार की कीमत चुकता करूंगा, मैं इससे ज्यादा लौटाऊंगा आपको'

  • 16:40(IST)

    मैं आपके प्यार का आभारी हूं. मैं इसे भूल नहीं सकता हूं- पीएम

  • 16:37(IST)

    पीएम मोदी अगरतला के अस्तबल मैदान से एक रैली को संबोधित कर रहे हैं.

  • 15:28(IST)

    भारतीय जनता पार्टी आपकी है और दिल्ली भी आपकी है. आप 18 तारीख को बीजेपी को वोट करें- पीएम

  • 15:27(IST)

    ये चुनाव आयोग के लिए चुनौती है कि वो यहां 18 तारीख तक शांति बनाए रखने में मदद करे, यहां किसी पर जुल्म न हो- पीएम

  • 15:26(IST)

    ये कम्युनिस्ट पार्टी को पता चल गया है कि उनका जाना तय है, इसलिए आने वाले दिनों में वो आपको धमकाएंगे, चाकू दिखाएंगे, बम धमाके करेंगे,  लेकिन आप इन बदमाशों से डरिएगा नहीं. पूरा देश आपके साथ है- पीएम

  • 15:25(IST)

    आपका प्यार मुझे यहां खींचकर लाया है. पहले तय हुआ था, लेकिन फिर कैंसल हो गया लेकिन मैंने कहा कि कुछ भी हो जाए, मैं जरूर जाऊंगा. मैं आपके लिए दिल्ली से दौड़कर आया हूं- पीएम

  • 15:23(IST)

    त्रिपुरा बांग्लादेश से सटा हुआ है. यहां बड़े उद्योग लग सकते हैं, बांग्लादेश से व्यापार हो सकता है, लेकिन ये कम्युनिस्ट पार्टी ऐसी नहीं कर सकती- पीएम

  • 15:21(IST)

    अब त्रिपुरा कम्युनिस्ट पार्टी को सजा देने वाला है. 18 तारीख वो दिन है- पीएम

  • 15:19(IST)

    कम्युनिस्ट पार्टी गणतंत्र में नहीं, गनतंत्र में विश्वास करते हैं. हमें गनतंत्र नहीं चाहिए, जनतंत्र चाहिए, लोकतंत्र चाहिए- पीएम

  • 15:16(IST)

    इस त्रिपुरा को इन्होंने इतना पीछे रखा है कि 25-30 साल पहले तय हुए वेतन आयोग के हिसाब से ही सरकारी कर्मचारियों को वेतन मिलता है- पीएम

  • 15:15(IST)

    बीजेपी ने अपने विजन डॉक्यूमेंट में कहा है कि सरकार बनने के पहले सबसे पहले यहां मजदूरों का मिनिमम वेजेज तय कर दिया जाएगा- पीएम

  • 15:14(IST)

    ये कम्युनिस्ट पार्टी बड़े-बड़े काम बंद करा देती है, इनको गरीबों से कोई मतलब नहीं, इनकी दुकान चलती रहनी चाहिए- पीएम

  • 15:12(IST)

    त्रिपुरा की जनता अब एक पल के लिए भी कम्युनिस्ट पार्टी की सरकार सहन करने के लिए तैयार नहीं है. अब इनको उखाड़कर फेंक दीजिए. अब पूरी दुनिया में इनकी जगह नहीं, अब त्रिपुरा में भी नहीं- पीएम

  • 15:11(IST)

    बहकना मत, कांग्रेस और वाम दल एक ही पार्टी है- पीएम

  • 15:10(IST)

    कांग्रेस वोट कटाऊ पार्टी है. ऐसी कैसी पार्टी कि दिल्ली में लड़ाई लड़े और त्रिपुरा में वाम दल की भलाई के लिए, तू भी चुप, मैं भी चुप, तेरा भी पाप गया, मेरा भी पाप गया, आओ पर्दे के पीछे हाथ मिला लेते हैं- पीएम

  • 15:08(IST)

    20-25 साल से इन्होंने जो मौज की है, उसका जवाब देने का वक्त आ गया है- पीएम

  • 15:06(IST)

    जब ये वाम दल के लोग, निर्दोषों की हत्या करते हैं तो ये पक्का हो जाता है कि वो पराजय से कांप रहे हैं : पीएम

  • 15:06(IST)

    त्रिपुरा के लोगों ने आज एक नया इतिहास बना दिया है, त्रिपुरा के किसी कोने में, इतने बड़े जन-सागर का आशीर्वाद पाने का सौभाग्य पहले कभी किसी को नहीं मिला होगा: पीएम

  • 15:05(IST)

    पीएम त्रिपुरा पहुंच चुके है. वो यहां अगरतला के शांतिर बाजार में चुनावी रैली को संबोधित कर रहे हैं.

3 मार्च के बाद त्रिपुरा से कम्युनिस्टों का निशान मिट जाएगा- पीएम मोदी

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव की तारीखें जैसे-जैसे नजदीक आ रही हैं वैसे-वैसे राजनीतिक पार्टियां अपने मतदाताओं को साधने की कोशिशें तेज कर रही हैं. त्रिपुरा से सीपीआई(एम) की सरकार को पांचवीं बार सत्ता में वापसी से रोकने के लिए पीएम मोदी गुरुवार को दो-दो रैलियां करने जा रहे हैं.

पीएम मोदी की एक रैली शांतिबाजार में दोपहर 12 बजे होगी जबकि दूसरी रैली राजधानी अगरतल्ला में शाम 3 बजे होनी है. 18 फरवरी को होने वाले चुनाव से पहले पीएम मोदी की यह रैली बेहद महत्वपूर्ण है. चुनाव प्रचार के बंद होने से एक दिन पहले पीएम मोदी त्रिपुरा के मतदाताओं को कितना बीजेपी के पक्ष में करने में कामयाब होंगे यह तो आने वाले वक्त में पता चलेगा.

राज्य में अपने पिछले चुनाव प्रचार के दौरान पीएम मोदी ने सीपीआई (एम) की सरकार पर जमकर हमला बोला था. पीएम ने राज्य के मतदाताओं से अपील किया था कि 'मानिक' को खारिज कर 'हीरा' को सत्ता में लाइए. मानिक से उनका निशाना राज्य के मुख्यमंत्री मानिक सरकार पर था और हीरा का मतलब उन्होंने हाईवेज, आईवेज, रोडवेज और एयरवेज बताया था.

त्रिपुरा जाने से पहले पीएम मोदी अरुणाचल प्रदेश जाएंगे. चीन से हुए डोकलाम विवाद के बाद उनका राज्य का यह पहला दौरा होगा. अरुणाचल में पीएम मोदी उत्तर-पूर्व के लिए दूरदर्शन को रीलॉन्च करेंगे. इसके अलावा वह यहा कई कार्यक्रमों में हिस्सा भी लेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi