S M L

राष्ट्रीय अधिवेशन में राहुल गांधी पर अमित शाह का हमला- मिशेल मामा पकड़े जाते हैं तो वो पसीना-पसीना हो जाते हैं

दिल्ली के रामलीला मैदान में बीजेपी का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन चल रहा है.

Updated On: Jan 11, 2019 05:17 PM IST

FP Staff

0
राष्ट्रीय अधिवेशन में राहुल गांधी पर अमित शाह का हमला- मिशेल मामा पकड़े जाते हैं तो वो पसीना-पसीना हो जाते हैं

दिल्ली के रामलीला मैदान में पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी के राष्ट्रीय अधिवेशन का उद्घाटन किया. इस मौके पर गृह मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, सीनियर नेता मुरली मनोहर जोशी और लाल कृष्ण आडवाणी समेत कई बड़े नेता मौजूद हैं.

पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रीय अधिवेशन में कहा कि हमने एक हफ्ते में दो ऐतिहासिक फैसले लिए. गरीबों को 10 फीसदी आरक्षण का फैसला बहुत ऐतिहासिक है.

शाह ने कहा कि आरक्षण बिल से युवाओं का सपना पूरा होगा. बीजेपी की मोदी सरकार ने वर्षों से चली आ रही मांग आरक्षण बिल को दोनों सदनों में पास कराकर करोड़ों युवाओं के सपने को साकार किया है.

उन्होंने कहा, GST लागू होने के बाद से हर जीएसटी बैठक में एक के बाद एक वस्तुओं के दाम कम करना और जीएसटी के सरलीकरण के लिए हमने हमेशा काम किया है.

शाह ने कहा कि अरुण जेटली की अध्यक्षता में जीएसटी काउंसिल की बैठक में निर्णय लिया गया कि 40 लाख रुपए तक सालाना टर्नओवर वाले छोटे व्यापारियों के लिए रजिस्ट्रेशन जरूरी नहीं है.

उन्होंने कहा, 1.5 करोड़ तक टर्नऑवर वाले कंपोजिशन प्लान स्वीकार करने वाले व्यापारियों को सिर्फ 1% टैक्स देना होगा. ये करोड़ों छोटे व्यवसायियों और लघु उद्योगों के लिए बड़ा फैसला है.

शाह ने कहा कि विवेकानंद ने जो कल्पना भारत के निर्माण के लिए की थी उसे हम पीएम मोदी के नेतृत्व में बनाएंगे. ये अधिवेशन भारतीय जनता पार्टी के देशभर में फैले कार्यकर्ताओं के लिए संकल्प करने का अधिवेशन है.

शाह ने कहा कि 2019 का चुनाव बहुत अहम है. आज बीजेपी 11 करोड़ से ज्यादा सदस्यों के साथ विश्व की सबसे बड़ी पार्टी है. विपक्षी पार्टियों के गठबंधन पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा, गठबंधन के पास न नेता है और न नीति है. गठबंधन एक ढकोसला है. यूपी में 73 नहीं 74 सीट जीतेंगे. एक दूसरे का मुंह न देखने वाले आज हार के डर से एक साथ आ गए हैं, वो जानते हैं कि अकेले नरेंद्र मोदी जी को हराना मुमकिन नहीं है.

शाह ने कहा कि पूरी दुनिया में पीएम मोदी जितना लोकप्रिय नेता नहीं है. चुनावों में हमारी जीत सुनिश्चित है. देश की जनता पीएम मोदी के पीछे चट्टान की तरह खड़ी है.

शाह ने कहा, अटल जी जनसंघ के समय से ही देश की राजनीति के ध्रुव तारे की तरह चमके थे, बीजेपी के संस्थापक अध्यक्ष थे. देश के हर कोने में बीजेपी को पहुंचाने के लिए अटल जी और आडवाणी जी की जोड़ी ने जो संघर्ष किया है, ऐसा संघर्ष शायद ही हुआ हो.

उन्होंने कहा, 2019 का चुनाव वैचारिक युद्ध का चुनाव है. दो विचारधाराएं आमने सामने खड़ी हैं. 2019 का युद्ध सदियों तक असर छोड़ने वाला है और इसीलिए मैं मानता हूं कि इसे जीतना बहुत महत्वपूर्ण है.

शाह ने कहा कि राजनीति फिजिक्स नहीं, केमिस्ट्री भी होती है. 2019 का चुनाव भारत के गरीब के लिए बहुत मायने रखता है. स्टार्टअप को लेकर निकले युवाओं के लिए ये चुनाव मायने रखता है. करोड़ों भारतीय जो दुनिया में भारत का गौरव देखने चाहते हैं उनके लिए ये चुनाव मायने रखता है.

2014 में 6 राज्यों में भारतीय जनता पार्टी की सरकारें थी और 2019 में 16 राज्यों में बीजेपी की सरकारें हैं. 5 साल के अंदर बीजेपी का गौरव दिन दोगुनी गति से बढ़ा है.

शाह ने वन रैंक वन पेंशन और उज्जवला योजना का जिक्र करते हुए कहा कि हमारी सरकार ने देश के लोगों के हित के लिए काम किया. जिन लोगों के बैंक अकाउंट नहीं थे, उनका बैंक में खाता खुला.

उन्होने कहा कि 2019 का चुनाव मोदी बनाम ऑल होगा. मोदी सरकार आने के बाद हमने सीमा पर गोली का जवाब गोले से दिया. देश की सुरक्षा से कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

शाह ने कहा, पहले दुश्मन देश के जवानों का सर काटकर ले जाते थे. हमने सर्जिकल स्ट्राइक करके इसका बदला लिया. राहुल एण्ड कंपनी घुसपैठियों पर अपना रुख साफ करे. विपक्ष को घुसपैठियों में वोट बैंक दिखता है. घुसपैठिए देश को दीमक की तरह खा जाते हैं.

शाह ने कहा कि घुसपैठिए हमारे लिए वोट बैंक नहीं बल्कि सुरक्षा से जुड़ा मुद्दा है. मोदी सरकार ने ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे बीजेपी कार्यकर्ता को सर नीचा करना पड़े, यह बेदाग सरकार है.

शाह ने कहा कि राहुल गांधी के कोरे आरोपों से पीएम मोदी को फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि उनका प्रामाणिक जीवन जनता के सामने है. वहीं मां और बेटा जमानत पर हैं.

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में पकड़े गए कथित बिचौलिए मिशेल पर शाह ने कहा कि जब मिशेल मामा पकड़े जाते हैं तो वो (राहुल गांधी) पसीना-पसीना हो जाते हैं.

शाह ने कहा, आज देश में नक्सलवाद और माओवाद लगभग समाप्त होने को है. 218 % आतंकियों को मारने में वृद्धि का आंकड़ा मोदी सरकार में पार हुआ है.

उन्होंने कहा, देश की सीमाओं की सुरक्षा का प्रबंधन कैसा हो, पीएम मोदी की सरकार में इसका आदर्श मॉडल आज दुनिया देख रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi