S M L

'अखिलेश और मायावती में ज्यादा भ्रष्ट और गुनाहगार होने की होड़'

अलीगढ़ के अतरौली विधानसभा सीट से कल्याण सिंह के पोते संदीप सिंह बीजेपी के टिकट पर चुनाव मैदान में हैं

FP Staff Updated On: Feb 05, 2017 07:50 PM IST

0
'अखिलेश और मायावती में ज्यादा भ्रष्ट और गुनाहगार होने की होड़'

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार चरम पर है. मतदाताओं को अपने पाले में करने के लिए राजनीतिक पार्टियों ने पूरी ताकत झोंक दी है. इसी सिलसिले में रविवार को अलीगढ़ के नुमाइश मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनावी रैली को संबोधित किया.

पीएम मोदी ने जनसभा में समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और बहुजन समाज पार्टी पर जोरदार हमला बोला. अलीगढ़ की अतरौली विधानसभा सीट से कल्याण सिंह के पोते संदीप सिंह चुनाव लड़ रहे हैं.  

BJP Supporters

यूपी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीजेपी से सबसे बड़ा स्टार प्रचारक हैं (फोटो: पीटीआई)

पीएम मोदी की अलीगढ़ रैली की बड़ी बातें बताते हैं आपको..

  1. जब आंधी तेज होती है तो कोई भी सहारा खोजता है. इस दफा बीजेपी की आंधी इतनी तेज है कि यहां के मुख्यमंत्री अपनी रक्षा के लिए किसी को भी पकड़ लेते हैं. ये लोग चुनाव जीतने के लिए साथ नहीं आए हैं बल्कि इसलिए आए हैं क्योंकि वो जानते हैं कि अगर मोदी को राज्यसभा में भी बहुमत मिल गया तो ऐसे कानून बनेंगे कि चोर-लुटेरों को जगह नहीं मिलेगी.
2. 2014 के पहले भी राजनीतिक दल थे लेकिन आज जिस तरह से फतवे पर फतवे निकाले जा रहे हैं, क्या पहले कभी निकलते थे? राजनीतिक दल मुझे कोसते हैं, पता है क्‍यों, क्योंकि मैं ऐसे स्‍क्रू टाइट कर रहा हूं कि सबको लग रहा है कि 70 साल के पापों का हिसाब अब देना पड़ेगा. कोई आया है जो हिसाब मांग रहा है.

3. बीजेपी उत्तर प्रदेश की जनता को इंसाफ दिलाने की लड़ाई लड़ रही है. अभी तो शुरुआत की है, लेकिन लगभग 40 हजार करोड़ रुपया जो हर साल सरकार की तिजोरी से ये चूहे आकर चुपचाप खा जाते थे, वह रुपया बचा लिया. भ्रष्‍टाचार के खिलाफ लड़ाई कैसे लड़ी जाती है, यह केंद्र सरकार ने दिखाया है. जब से आपने मुझे केंद्र में बैठाया है, मैंने एक के बाद एक कदम उठाए हैं. उत्तर प्रदेश की जनता परिवर्तन और न्याय चाहती है.

4. 8 नवंबर को जब मैंने टीवी पर आकर 1000 और 500 के पुराने नोट बंद किए तो काले धन वालों में भूचाल आ गया. कुछ लोगों ने गंगा में बहा दिए, कुछ ने जला दिया. कुछ को लगा कि बैंक में काला धन जमा किया तो वह सफेद हो जाएगा. लेकिन उनको नहीं पता था कि मोदी ने पहले ही व्‍यवस्‍था कर के रखी है कि जो बैंकों में जमा करेगा, उसकी पूंछ कहां निकलती है ये पता चल जाएगा.

5. यूपी का हाल ऐसा कर दिया है कि यहां कभी बिजली आती ही नहीं है और आती है तो लोग आनंद मनाते हैं. अलीगढ़ के ताले यहां के उद्योगों में लग गए क्योंकि यहां की सरकार इन कारखानों और फैक्ट्रियों में बिजली नहीं दे पा रही थी.

6. उत्तर प्रदेश की सरकार को विकास से कोई लेना-देना नहीं है. आपके सहयोग से भारत का भाग्य बदलना है. मैं जब विकास की बात करता हूं तो विकास से मेरा मतलब है कि विद्युत, कानून व्‍यवस्‍था और सड़क. इन पर विकास की भव्‍य इमारत बनाई जा सकती है. यूपी की जनता परिवर्तन और न्याय चाहती है.

7. हमने मुद्रा योजना शुरू की. एक जमाना था कि सामान्‍य आदमी को को कर्ज लेने के लिए साहूकार के पास जाना पड़ता था. वह इतना ब्‍याज लेता था कि गरीब, मध्‍यम वर्ग का आदमी ब्‍याज देते-देते थक जाता था. अब छोटे-छोटे कारोबारियों को भी मुद्रा योजना से 50 हजार रुपया चाहिए तो बैंक बिना गारंटी दे देगा.

8. क्या नौकरी पाने के लिए किसी जाति विशेष में पैदा होना जरूरी है? क्या हिंदुस्तान का संविधान कहता है कि किसी विशेष जाति में नहीं जन्मे तो नौकरी नहीं मिलेगी? नौकरी में जो भ्रष्टाचार हुआ है, लखनऊ में हमारी सरकार बैठने के बाद हम एक-एक नौजवान को कानूनी तरीके से न्याय दिलाएंगे.

9. मैंने यूपी सरकार को बार-बार कहा कि भ्रष्टाचार के दरवाजे बंद करो. पर इसके लिए समाज के प्रति समर्पण का भाव चाहिए. केंद्र में हमने क्लास- 3 और 4 से इंटरव्यू खत्म करके भ्रष्टाचार खत्म करने का काम किया है. लेकिन समाजवादी पार्टी की सरकार ने इसे लागू नहीं किया है.

10. यूपी में मायावती और अखिलेश के बीच में स्पर्धा होती है कि किसके राज में कौन सा गुनाह सबसे ज्यादा हो सकता है. यूपी में एक दिन में 24 मां-बेटियों का रेप होता है. 21 पर बलात्कार का प्रयास होता है. प्रदेश में एक दिन में 13 मर्डर, 33 अपहरण, 19 दंगे और 136 चोरी की घटनाएं होती हैं. क्या यूपी में सूरज ढलने के बाद महिलाएं घर से अकेले बाहर जा सकती हैं? माताओं और बहनों को सुरक्षा मिलनी चाहिए और जो यहां गुंडागर्दी करते हैं उन्हें सजा मिलनी चाहिए. यूपी की जनता को उस सरकार को सजा देनी चाहिए जो गुंडों को संरक्षण देती है.

11. यूपी का किसान गेहूं और गन्ना पैदा करता है, लेकिन यूपी सरकार केंद्र के तय कीमत पर अनाज क्यों नहीं खरीदती है. हरियाणा, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की बीजेपी सरकार उचित मूल्य पर 70 फीसदी किसानों की उपज खरीदती है. किसानों के नाम पर वोट मांगने वाली यूपी की अखिलेश सरकार सिर्फ 3 फीसदी अनाज किसान से खरीदती है और किसानों को उनके हाल पर छोड़ देती है.

12. जिस दिन हमने शपथ ली, गन्‍ना किसानों का 22 हजार करोड़ रुपए बकाया था. हमने तय किया कि सीधा किसानों के खाते में पैसा जमा करेंगे. 32 लाख किसानों के खाते में सीधा पैसा जमा कराया. केंद्र ने 22 हजार करोड़ रुपये गन्ना किसानों के अकाउंट में डाला. यूपी में हमारी सरकार बनते ही छोटे और मध्य वर्ग के किसानों के कर्ज माफ किए जाएंगे और गन्ना किसानों के गन्ने का भुगतान 14 दिनों में किया जाएगा. हमने यूरिया की नीम कोटिंग शुरू की. अब वह यूरिया खेती के अलावा किसी और काम में नहीं आ सकता. यूरिया की चोरी बंद हो गई. किसान का खर्चा कम हो गया.

13. केंद्र सरकार ने बाबा साहब के नाम भीम ऐप बनाया जिसके जरिए हिंदुस्तान की आर्थिक कहानी बदलने की कोशिश की जा रही है. लंदन में हमने बाबा साहब के मकान की नीलामी रुकवा कर उसे लाखों-करोड़ों रुपये में खरीदा. नागपुर में भी जहां बाबा साहब ने दीक्षा ली थी उसे भी हम स्मारक बनवा रहे हैं. हमने मुंबई, नागपुर, मऊ, लंदन और दिल्ली में बाबा साहब के नाम पर स्मारक बनवाने का निर्णय लिया. बीजेपी ने उनके नाम पर पंचतीर्थ बनाने का फैसला लिया ताकि दलितों और शोषितों को उनका हक मिल सके.

14. हमने पूरे देश में एलईडी बल्‍ब लगाने का बड़ा अभियान छेड़ा है. पहले साढ़े तीन-चार सौ में एलईडी बल्‍ब मिलता था, हमने नियम बदले और 70-80 रुपए में लाकर खड़ा कर दिया. जिस-जिसने एलईडी लगाया है, उन सबका बिल बचने लगा है. एलईडी बल्ब सस्ते में देकर देश के लोगों का एक वर्ष का लगभग 10 हजार करोड़ रुपये बचाने का काम हमने कर दिखाया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi