S M L

पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव: VC से मिलने पहुंचे प्रशांत किशोर,धरने पर बैठी ABVP

पटना यूनिवर्सिटी के वीसी से प्रशांत किशोर ने सोमवार शाम उनके आवास पर मुलाकात की. इस मुलाकात का ABVP सहित विभिन्न छात्र संगठनों ने जमकर विरोध किया

Updated On: Dec 04, 2018 02:20 PM IST

Bhasha

0
पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव:  VC से मिलने पहुंचे प्रशांत किशोर,धरने पर बैठी ABVP

जेडीयू के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर ने सोमवार देर रात पटना यूनिवर्सिटी के वीसी से मुलाकात की. पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव प्रचार के आखिरी दिन छात्रों ने इस मुलाकात का जमकर विरोध किया है.

पटना यूनिवर्सिटी के वीसी से प्रशांत किशोर ने सोमवार शाम, उनके आवास पर मुलाकात की. इस मुलाकात का अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) सहित विभिन्न छात्र संगठनों ने जमकर विरोध किया और प्रशांत के काफिले में शामिल गाड़ियों पर पथराव भी किया. इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिस ने ABVP के कुछ कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया.

धरने पर बैठे ABVP के कार्यकर्ता

ABVP के एक कार्यकर्ता रवि किरण को अभी भी हिरासत में रखे जाने के विरोध में मंगलवार को ABVP के कार्यकर्ता धरने पर बैठे . इसमें बीजेपी के स्थानीय विधायक अरूण कुमार भी शामिल हुए जो प्रशांत किशोर की गिरफ्तारी की मांग कर रहे थे. उन्होंने प्रशांत किशोर पर यूनिवर्सिटी के वीसी सहित इस चुनाव से जुडे़ सभी पदाधिकारियों पर अपने उम्मीदवार के लिए दबाव बनाने का आरोप लगाते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग की.

एबीवीपी के इस धरने में शामिल भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष और बीजेपी के स्थानीय विधायक नितिन नवीन ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल से पांच दिसंबर को होने जा रहे पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव के निष्पक्ष और पारदर्शी रहने और कानून तोड़ने को लेकर प्रशांत किशोर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी.

प्रदेश में किसकी चलेगी बीजेपी करे तय

वही दूसरी तरफ बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी के वरिष्ठ नेता और विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि प्रशांत किशोर की मुलाकात का छात्र संगठन और राजनीतिक दल विरोध कर रहे हैं. ऐसे में जेडीयू के साथ बिहार में सत्ता में शामिल बीजेपी को यह तय करना है कि प्रदेश में प्रशांत किशोर की चलेगी या सरकार की चलेगी.

वहीं जेडीयू के प्रदेश प्रवक्ता संजय सिंह ने प्रशांत किशोर का बचाव करते हुए कहा कि वे छात्र संघ चुनाव से जुड़े मामले को लेकर नहीं, बल्कि कुलपति से अनुमति लेकर उस यूनिवर्सिटी में प्रस्तावित भूकंप प्रबंधन केंद्र को लेकर बातचीत करने गए थे.

सिंह ने कहा कि प्रशांत किशोर को जेडीयू का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए जाने पर कुछ लोगों को बैचेनी है जिसकी दवा उनके पास नहीं है. वैसे भी, जेडीयू का जनाधार लगातार बढ़ने से कुछ लोग परेशानी महसूस कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi