S M L

सबरीमाला मुद्दा: केरल हिंसा पर लोकसभा में हंगामा, चले आरोप-प्रत्यारोप के दौर

गुरुवार को केरल में हुए हड़ताल के दौरान हिंसा हुई थी, जिसमें एक शख्स की मौत और 100 लोग घायल हो गया था

Updated On: Jan 04, 2019 04:06 PM IST

FP Staff

0
सबरीमाला मुद्दा: केरल हिंसा पर लोकसभा में हंगामा, चले आरोप-प्रत्यारोप के दौर

केरल के सबरीमाला में गुरुवार को हुए प्रदर्शन और हिंसा का मुद्दा शुक्रवार को लोकसभा में उठा, जहां कांग्रेस ने हिंदूवादी संगठनों की हड़ताल में हिंसा होने का आरोप लगाया, वहीं बीजेपी ने इस घटनाक्रम के लिए केरल की सीपीएम नीत सरकार को जिम्मेदार ठहराया.

शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल ने कहा कि केरल में पिछले दो तीन दिन में जो कुछ हुआ, वह दुखद है.

केरल के घटनाक्रम के विरोध में काली पट्टी पहने वेणुगोपाल ने कहा, ‘कल बीजेपी के लोगों ने राज्य में हड़ताल घोषित की, जिसमें तोड़फोड़ और हिंसा हुई. मीडियाकर्मियों भी इसमें चोट लगी. हम चाहते हैं कि राज्य में इस समस्या का समाधान निकाला जाए. हिंसा से हल नहीं निकल सकता.’

सीपीएम के पी करुणाकरण ने कहा कि इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला दिया. बीजेपी के कई नेताओं ने भी इस फैसले का समर्थन किया था. केरल सरकार भगवान अयप्पा के भक्तों को संरक्षण देना चाहती है. संविधान में सभी नागरिकों को पूजास्थल पर जाने का अधिकार है.

वहीं, बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने कहा कि केरल में सत्तारूढ़ सीपीएम के लोग धर्म और अध्यात्म को नहीं मानते और धर्म विरोधी हैं लेकिन आज धर्म की बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि सीपीएम के लोग परंपराओं को नहीं समझते. सबरीमाला मंदिर की अपनी परंपराएं हैं और उनका सम्मान किया जाना चाहिए.

लेखी ने कहा कि सबरीमाला में पिछले कुछ दिन में हुई हिंसा और एक मौत के लिए राज्य की सरकार जिम्मेदार है. सीपीएम के लोग वहां माहौल को भड़का रहे हैं. उन्होंने एक आपत्तिजनक शब्द का इस्तेमाल करते हुए कहा कि महिलाओं को रात के अंधेरे में दर्शन कराने केलिए क्यों ले गए. अगर वो भक्त महिलाएं थीं, तो उनको दिन में आना चाहिए था.

गौरतलब है कि सबरीमाला मंदिर में 50 साल से कम उम्र की दो महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ हिंदू संगठनों ने गुरुवार को प्रदर्शन किया था. हड़ताल के दौरान हिंसा में एक शख्स की मौत हो गई और लगभग 100 लोग घायल हो गए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi