S M L

LIVE संसद: 3 साल बाद सरकार ने की पुष्टि, इराक में अगवा हुए 39 भारतीयों की हत्या हुई

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा की मांग को लेकर वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी ने सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने का नोटिस दिया है

FP Staff | March 20, 2018, 03:50 PM IST

0

हाइलाइट

Mar 20, 2018

  • 14:09(IST)

    संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने लोकसभा में विपक्षी पार्टियों के हंगामेदार रवैये की निंदा की है. उन्होंने कहा कि सदन में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज इराक में अगवा 39 भारतीयों के मारे जाने पर बयान दे रही थीं तब वो सभी हंगामा और शोर-गुल कर रहे थे. इस दौरान स्पीकर ने उनसे बार-बार शांति बनाए रखने की अपील की लेकिन वो नहीं माने

  • 13:55(IST)

    मारे गए सभी 39 भारतीय नागरिक इराक में रोजगार और काम करने गए थे. जून, 2014 में इन सभी को आतंकवादी संगठन ISIS ने अगवा कर लिया था. मारे गए अधिकतर नागरिक पंजाब के रहने वाले थे. वहीं 3 लोग हिमाचल प्रदेश और 2 बिहार के निवासी थे

  • 13:49(IST)

    पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा, 'हम इसका पहले से अनुमान लगा रहे थे. सरकार को इनके (इराके में अगवा भारतीयों) बारे में काफी पहले से पता था. इनके मारे जाने के बारे में पहले ही पुष्टि कर देनी चाहिए थी'

  • 13:24(IST)

    कांग्रेस ने इराक में मारे गए भारतीयों के लिए दुख और अफसोस जताते हुए सरकार ने उनके परिवारवालों को आर्थिक सहायता देने की मांग की

  • 13:22(IST)

    विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने विपक्षी पार्टियों पर इराक में ISIS के हाथों मारे गए 39 भारतीय नागरिकों की मौत मामले पर गुमराह करने का आरोप लगाया 

  • 13:19(IST)
  • 13:19(IST)
  • 13:18(IST)

    विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने कहा, 'मोसुल में अगवा किए गए भारतीय नागरिकों के बारे में कुछ भी छुपाया नहीं गया. हर काम को पूरा करने में समय लगता है. सुषमा जी ने कहा था कि वो इन भारतीयों को तब तक मृतक नहीं मानेंगी जब तक उन्हें इसके बारे में पक्के तौर पर सबूत नहीं मिल जाता. अब जब इस बात के सबूत मिल गए हैं तो उन्होंने देश को इनके ISIS के हाथों मारे जाने की बात बताई है'

  • 12:36(IST)

    लोकसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

  • 11:32(IST)

    राज्यसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित

  • 11:23(IST)

    जनरल वीके सिंह इराक में मारे गए भारतीयों के शव भारत वापस लाने के लिए जाएंगे. जिस विमान से शव लाए जाएंगे, वो पहले अमृतसर जाएगा, फिर पटना और फिर कोलकाता जाएगा: सुषमा स्वराज

  • 11:19(IST)

    पहाड़ खोदकर भारतीयों के शव निकाले गए. सभी 39 शवों को अमृतसर लाया जाएगा. 39 में 38 शवों के डीएनए सैंपल मैच हुए: सुषमा स्वराज

  • 11:17(IST)
  • 11:16(IST)

    राज्यसभा में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का बयान- इराक के मोसुल में लापता हुए 39 भारतीय मारे गए. आईएस ने 39 भारतीयों की हत्या की. तीन साल बाद भारतीयों की मौत की पुष्टि हुई. हरजीत मसी की कहानी सच्ची नहीं थी. 

  • 11:14(IST)

    लोकसभा की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित

  • 10:44(IST)

    संसद परिसर में विपक्षी पार्टियों के सांसद की बैठक

  • 10:43(IST)

    आंध्र प्रदेश और अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन के लिए मैं सभी पार्टियों से समर्थन की मांग करूंगा- सीएम चंद्रबाबू नायडू

  • 10:40(IST)

    अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन को लेकर अभी तक कई पार्टियों का रुख साफ नहीं हैं.

  • 10:39(IST)

    हम लोकसभा स्पीकर से निवेदन करते हैं कि हमें अविश्वास प्रस्ताव लाने दें: वाई.वी. सुब्बा रेड्डी, YSR कांग्रेस सांसद

LIVE संसद: 3 साल बाद सरकार ने की पुष्टि, इराक में अगवा हुए 39 भारतीयों की हत्या हुई

संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण की कार्यवाही मंगलवार को भी हंगामेदार रहने की संभावना है. वाईएसआर कांग्रेस और तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ लोकसभा में आज (मंगलवार) भी अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश करने की कोशिश करेंगी. आंध्र प्रदेश की यह दोनों राजनीतिक पार्टियां राज्य को विशेष दर्जा देने की मांग कर रही हैं.

वाईएसआर कांग्रेस और टीडीपी ने लोकसभा की अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को एक दिन पहले ही अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया था. वाईएसआर कांग्रेस के सांसद वाई वी सुब्बा रेड्डी ने लोकसभा सचिवालय में आज की संशोधित कार्य सूची में उनका नोटिस रखने के लिए पत्र लिखा है.

दोनों पार्टियां सोमवार को लोकसभा में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश करना चाहती थीं लेकिन विपक्ष ने हंगामा और शोरगुल करना जारी रखा. इसे लेकर लोकसभा की कार्यवाही को दिन भर के लिए स्थगित कर दिया गया. विपक्षी पार्टियों के विरोध-प्रदर्शन के चलते राज्‍यसभा की कार्यवाही भी दिन भर के लिए स्‍थगित करनी पड़ी. मगर दोनों पार्टियों ने लोकसभा में अविश्‍वास प्रस्‍ताव पेश किए जाने को लेकर फिर नोटिस दिया है.

हालांकि सरकार ने यह साफ किया है कि वह अविश्वास प्रस्ताव समेत विपक्ष की ओर उठाए जा रहे सभी मुद्दों पर बहस के लिए तैयार है, लेकिन इसके लिए सदन का सुचारू रूप से चलना आवश्यक है. गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने स्‍पष्‍ट रूप से कहा कि सरकार अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए तैयार है, लेकिन इसके लिए सदन में शांति होना सबसे जरूरी है तभी सार्थक बहस हो सकती है.

सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नोटिस के लिए सदन में कम से कम 50 सदस्यों का समर्थन चाहिए. लोकसभा में टीडीपी के 16 सदस्य हैं, जबकि वाईएसआर कांग्रेस के 9 सांसद हैं. दोनों पार्टियां अपने-अपने नोटिस के समर्थन के लिए विपक्षी पार्टियां को लामबंद करने में जुटी हुई हैं.

वहीं सरकार को भरोसा है कि नोटिस स्वीकार कर लिए जाने पर भी उसकी संख्या बदल की बदौलत लोकसभा में यह अविश्वास प्रस्ताव औंधे मुंह गिर जाएगा.

वर्तमान में लोकसभा में सदस्यों की संख्या 539 है. यहां बहुमत के लिए 270 का आंकड़ा चाहिए. सत्तारूढ़ बीजेपी के पास अकेले 274 सदस्य हैं. लोकसभा में एनडीए का यह आंकड़ा बढ़कर 314 हो जाता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi