S M L

पाकिस्तान ने पिछले चार महीनों में बनाए नए आतंकी शिविर

इस साल जनवरी के बाद बीते चार महीनों में इस इलाके में 20 नए शिविर फिर से बना दिए गए

Updated On: May 02, 2017 11:36 PM IST

Bhasha

0
पाकिस्तान ने पिछले चार महीनों में बनाए नए आतंकी शिविर

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पार पिछले चार महीनों में पाकिस्तान समर्थित नए आतंकी शिविर वजूद में आए हैं.

गृह मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस बात की पुष्टि की. पिछले साल भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पीओके में काफी अधिक संख्या में यह शिविरों के बनने की पुष्टि की गई है.

उन्होंने बताया कि इन शिविरों में आतंकवादियों को जम्मू कश्मीर में घुसपैठ के लिये प्रशिक्षित किया जाता है. अधिकारी ने खुफिया सूत्रों के हवाले बताया कि पिछले साल सितंबर में भारतीय सेना की पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान आतंकी शिविरों की संख्या 35 थी.

उस दौरान इनमें से अधिकांश आतंकी शिविर या तो नष्ट कर दिए गए थे या फिर इन्हें पीओके में अंदरूनी इलाकों में स्थानांतरित कर दिया गया था.

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भी पीओके में 35 शिविर इसी इलाके में कार्यरत हैं

अधिकारी ने बताया कि इस साल जनवरी के बाद बीते चार महीनों में इस इलाके में 20 नए शिविर फिर से बना दिए गए. जबकि सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान स्थानांतरित किए गए 35 शिविर भी फिर से इसी इलाके में कार्यरत हो गए हैं.

उन्होंने बताया कि फिलहाल सभी 55 शिविर पूरी तरह से कार्यरत हैं. मंत्रालय को मिली जानकारी के मुताबिक पिछले चार महीनों में पीओके से घुसपैठ की 60 कोशिशें हुईं इनमें 15 आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ करने में कामयाब रहे.

Kupwara Attack army soldiers

अधिकारी ने खुफिया रिपोर्टों के हवाले से बताया कि इस समय कश्मीर घाटी में 160 आतंकवादी सक्रिय होकर अपने संचालक संगठनों के निर्देशों पर सुरक्षा बलों के खिलाफ हमले कर रहे हैं, जिससे नियंत्रण रेखा और घाटी में विस्फोटक हालात बने रहें.

उन्होंने बताया कि 8 मई को राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर स्थानांतरित होने की कवायद राज्य सरकार द्वारा शुरू करने से पहले आतंकवादी संगठनों की कोशिश है कि हमलों के जरिए घाटी में सक्रिय समर्थक गुटों का मनोबल कायम रखा जाए.

कल पाकिस्तानी सेना की बॉर्डर एक्शन टीम द्वारा सीमा पर दो भारतीय सैनिकों की बर्बरता से हत्या कराना भी इसी रणनीति का हिस्सा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi