S M L

चिदंबरम ने कहा- कालेधन को सफेद करने के लिए की गई नोटबंदी

चिदंबरम ने कहा, नगदी को हाथ में रखने की वजह यही है कि लोग बैंक में पैसे रखने से डर रहे हैं

Updated On: Aug 31, 2018 08:42 PM IST

FP Staff

0
चिदंबरम ने कहा- कालेधन को सफेद करने के लिए की गई नोटबंदी
Loading...

नोटबंदी पर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने बयान दिया है. उन्होंने कहा, 'अगर सभी करेंसी नोट बदल दिए गए हैं तो इसका मतलब है कि काले धन को भी बदल दिया गया है. सरकार का कहना है कि 3-4 लाख करोड़ रुपयों को आरबीआई को नहीं सौपेंगे और यह ब्लैक मनी स्टाक है.'

चिदंबरम ने कहा, 'अगर सारे पैसे आरबीआई के पास आए हैं तो इसका मतलब है कि 3-4 लाख करोड़ रुपए के काले धन को सफेद कर दिया गया है.' उन्होंने कहा, 'ऐसा लगता है कि नोटबंदी केवल इसलिए की गई जिससे काले धन को सफेद में बदला जा सके.'

चिदंबरम ने यह भी कहा, 'बहुत से लोगों को लगता है कि जिस समय नोटबंदी की घोषणा की गई, उस वक्त वित्त मंत्री अरुण जेटली को भी इसकी जानकारी नहीं दी गई थी.'

चिदंबरम ने नीति आयोग के वाइस चांसलर के बयान पर भी जवाब दिया. दरअसल नीति आयोग के वाइस चांसलर ने कहा था कि नोटबंदी से नगद लेन-देन में कमी आई है. इस मसले पर चिदंबरम ने कहा, 'लोगों के हाथों में 1.4 फीसदी नगदी है जोकि 8 नवंबर 2016 से ज्यादा है. लोगों के नगदी को हाथ में रखने की वजह यही है कि वह बैंक में पैसे रखने से डर रहे हैं. इसलिए वह घरों में पैसा रख रहे हैं.'

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi