S M L

अब नए वायसराय की तरह व्यवहार कर रहे हैं राज्यपाल: चिदंबरम

पी चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक के भारत-पाकिस्तान बातचीत पर बयान को लेकर हमला बोला

Updated On: Oct 26, 2018 12:30 PM IST

FP Staff

0
अब नए वायसराय की तरह व्यवहार कर रहे हैं राज्यपाल: चिदंबरम
Loading...

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक पर हमला बोलते हुए कहा कि देश के राज्यपाल अब नए वायसराय की तरह व्यवहार करने लगे हैं.

दरअसल, सत्यपाल मलिक ने कहा था कि राजनीतिक दलों को भारत-पाकिस्तान की बातचीत के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है.

पूर्व वित्त मंत्री ने कई ट्वीट करते हुए जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल के बयान का हवाला दिया.

नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के कश्मीर मुद्दे को सुलझाने के लिए कथित तौर पर पाकिस्तान की भूमिका का लगातार हवाला देने को लेकर राज्यपाल ने उनकी आलोचना की थी.

राज्यपाल मलिक के इस बयान पर चिदंबरम ने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा, ‘जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल ने कहा है कि राजनीतिक पार्टियों को भारत-पाकिस्तान बातचीत के बारे में बात करने का अधिकार नहीं है. शायद वह ‘पार्टी विहीन’ लोकतंत्र के समर्थक हैं या फिर ‘बिना लोकतंत्र’ के.'

उन्होंने मजाकिया लहजे में टिप्पणी करते हुए कहा, ‘हमें बताया गया है कि भारत के अंतिम वायसराय लॉर्ड माउंटबेटन थे. यह गलत है. नियुक्त किए गए राज्यपाल और उप राज्यपाल अब नए वायसराय हैं.'

जम्‍मू-कश्‍मीर के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने गुरुवार को हुर्रियत नेताओं पर भी टिप्पणी की थी. उन्होंने व्यंग्य कसते हुए कहा था कि हुर्रियत नेता बिना पाकिस्तान की इजाजत के टॉयलेट भी नहीं जाते. उनका कहना है कि अलगाववादी संगठन हुर्रियत जब तक खुद को पाकिस्तान से अलग नहीं कर लेता तब तक उससे किसी तरह की कोई बातचीत नहीं होगी.

मलिक का कहना था, 'मैंने किसी पक्षकार से बात नहीं की. हाल में कई पार्टियों के प्रतिनिधियों से मुलाकात हुई थी. जहां तक हुर्रियत की बात है तो वे पाकिस्‍तान से पूछे बिना टॉयलेट तक नहीं जाते हैं. इसलिए वे जब तक पाकिस्‍तान से अलग नहीं होते तब तक उसके किसी तरह की कोई बात नहीं होगी.'

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi