S M L

कावेरी प्रबंधन बोर्ड को लेकर तमिलनाडु की सड़कों पर उतरीं कई पार्टियां

डीएमके और अन्य विपक्षी पार्टियों ने 'रोड रोको' प्रदर्शन किया और राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया

FP Staff Updated On: Apr 05, 2018 12:57 PM IST

0
कावेरी प्रबंधन बोर्ड को लेकर तमिलनाडु की सड़कों पर उतरीं कई पार्टियां

कावेरी प्रबंधन बोर्ड बनाने की मांग को लेकर तमिलनाडु में विरोध प्रदर्शन जारी है. द्रविण मुनेत्र कझगम (डीएमके) और अन्य विपक्षी पार्टियों ने रोड रोको प्रदर्शन किया और राज्यव्यापी बंद का आह्वान किया.

विरोध प्रदर्शन को देखते हुए पूरे राज्य में भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई. डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने विरोध प्रदर्शन की अगुआई की. कोयंबटोर में विपक्षी दलों के आह्वान पर सभी दुकानें बंद रहीं.

कावेरी प्रबंधन बोर्ड बनाने में हो रही देरी को लेकर तमिलनाडु की कई पार्टियों ने जैसे द्रविडार विदुथलै कझगम (डीवीके), विदुथलै तमिल पुलिगल काची (वीटीपीके) और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया ने केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया.

गुरुवार को चेन्नई में विरोध प्रदर्शन में हिस्सा ले रहे एमके स्टालिन को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. उनके साथ डीएमके के कई समर्थन भी प्रदर्शन में शामिल थे.

सुप्रीम कोर्ट गई पुडुचेरी सरकार

कावेरी जल के मुद्दे पर गुरुवार को पुडुचेरी सरकार सुप्रीम कोर्ट गई और केंद्र सरकार को निर्देश देने का अनुरोध किया कि कावेरी मुद्दे पर आया फैसला सही मायनों में लागू कराया जाए. बीते 2 अप्रैल को पुडुचेरी की लेफ्टिनेंट गवर्नर किरण बेदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कावेरी मुद्दे पर कार्रवाई कराने का अनुरोध किया. बेदी ने पीएम मोदी से आग्रह किया कि वे संबंधित मंत्रालय को कावेरी प्रबंधन बोर्ड और कावेरी वाटर रेगुलेशन कमेटी बनवाने का निर्देश दें.

कावेरी मुद्दे पर तमिलनाडु में आंदोलन बुधवार को चौथे दिन भी जारी रहा. डीएमके और अन्य विपक्षी दलों ने प्रदर्शन किए, वहीं दो संगठनों ने चेन्नई में होने वाले आईपीएल मैचों का विरोध किया. इसके साथ ही कथित तौर पर नदी जल बंटवारे से संबंधित विवाद को लेकर जहर खाने वाले एक व्यक्ति की बुधवार को मौत हो गई.

तमिलनाडु में डीएमके की अगुआई में विपक्ष ने गुरुवार को बंद का आह्वान किया. इसे विपक्ष से जुड़ी ट्रेड यूनियनों सहित अन्य ने भी समर्थन दिया है. डीएमके ने समूचे तमिलनाडु में प्रदर्शन किया जिनमें इसकी सहयोगी कांग्रेस के कार्यकर्ताओं और विदुथलाई चिरुथाइगल सहित इसके अन्य संगठनों ने भी भागीदारी की. कोयंबटूर में विधायक एन कार्तिक की अगुआई में 300 से अधिक डीएमके कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया जो बीएसएनएल कार्यालय के बाहर प्रदर्शन की कोशिश कर रहे थे.

तमिल समर्थक संगठन तामिझगा वाझवुरिमाइ कात्चि के प्रमुख टी वेल्मुरुगन ने आईपीएल मैचों के आयोजकों से अपील की कि वे चेन्नई में मैच न कराएं. उन्होंने कहा कि मैच कराए जाते हैं तो तमिल संगठन टिकट खरीदकर स्टेडियम के भीतर ‘लोकतांत्रिक प्रदर्शन’ करेंगे. पुलिस ने बताया कि सलेम में कथित तौर पर कावेरी मुद्दे को लेकर जहर खाने वाले 40 साल के व्यक्ति की बुधवार को मौत हो गई. प्रभु नाम के तिपहिया चालक ने प्रदर्शन के दौरान गत दो अप्रैल को चूहे मारने वाली दवा खा ली थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
FIRST TAKE: जनभावना पर फांसी की सजा जायज?

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi