S M L

हरियाणा सरकार ने 3 साल में सिर्फ 3 हजार नौकरियां दींः दीपेंद्र

सांसद ने कहा कि हाल में हुए छात्र संघ चुनावों से यह स्पष्ट हो गया है कि युवाओं ने बीजेपी के खोखले वादों को खारिज करना शुरू कर दिया है

FP Staff Updated On: Dec 24, 2017 04:50 PM IST

0
हरियाणा सरकार ने 3 साल में सिर्फ 3 हजार नौकरियां दींः दीपेंद्र

कांग्रेस सांसद दीपेंद्र हुड्डा ने दावा किया है कि हरियाणा की राज्य सरकार अपने तीन साल के कार्यकाल में युवाओं के लिए सिर्फ 3 हजार नौकरियां ही मुहैया करा पाई है. भिवानी में युवा आक्रोश सम्मेलन को संबोधित करते हुए सांसद ने ये बात कही.

हुड्डा ने कहा कि लोकसभा में उनके प्रश्न के जवाब में सरकार ने स्वीकार किया था कि अब तक देश भर में 9 लाख युवाओं को नौकरियां दी गई है. जबकि उनका चुनावी वादा हर साल 2 करोड़ नौकरियों का था. उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने वादे का सिर्फ 1 प्रतिशत ही पूरा किया है. वे पास होने के लिए जरूरी 33 प्रतिशत पाने में भी विफल रहे हैं.

सांसद ने कहा कि दिल्ली विश्वविद्यालय, राजस्थान विश्वविद्यालय और पंजाब विश्वविद्यालय में हुए छात्र संघ चुनावों से यह स्पष्ट हो गया है कि युवाओं ने बीजेपी के खोखले वादों को खारिज करना शुरू कर दिया है. उन्होंने यह भी कहा कि गुजरात चुनाव के नतीजों से पता चला है कि राज्य के युवा कांग्रेस के साथ हैं, बीजेपी के नहीं.

अपनी उपलब्धियों को गिनाते हुए हुड्डा ने दावा किया कि हरियाणा में कांग्रेस सरकार ने 1600 करोड़ रुपए का बिजली बिल माफ किया था. 4 बिजली उद्योगों की स्थापना की थी. 15 विश्वविद्यालय खोलें और कई राजमार्गों का निर्माण किया था. उन्होंने कहा कि वर्तमान की बीजेपी सरकार कांग्रेस द्वारा शुरू किए गए प्रोजेक्ट्स को रोक कर राज्य को पीछे ले जा रही है.

हुड्डा ने यह भी कहा कि सत्ता में बीजेपी के दिन सीमित हैं. लोग हरियाणा में शांति और सामंजस्य को बाधित करने के लिए इस सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि नौकरियों का सृजन करने और एक स्वस्थ कारोबारी माहौल प्रदान करने के बजाय, बीजेपी शुरुआत से ही छोटे व्यवसायों और स्टार्टअप्स को प्रभावित करने वाली नीतियां ला रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi