S M L

OBC आरक्षण का 97 फीसदी लाभ उठा रही हैं सिर्फ 25 प्रतिशत जातियां, रिपोर्ट से हुआ खुलासा

जिन जातियों ने ओबीसी आरक्षण का सबसे ज्यादा लाभ लिया है, उनमें यादव, कुर्मी, जाट, सैनी, थेवर, एझावा और वोक्कालिगा जातियां शामिल हैं

Updated On: Dec 07, 2018 02:50 PM IST

FP Staff

0
OBC आरक्षण का 97 फीसदी लाभ उठा रही हैं सिर्फ 25 प्रतिशत जातियां, रिपोर्ट से हुआ खुलासा

ओबीसी आरक्षण को लेकर एक चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है. रिपोर्ट के मुताबिक, ओबीसी को मिलने वाले आरक्षण का 97 प्रतिशत लाभ सिर्फ कुछ ही जातियां उठा रही हैं और बाकी की जातियों को इसका लाभ नहीं मिल पा रहा है. ओबीसी कोटे में शामिल लगभग 938 जातियों को आरक्षण का कोई लाभ नहीं मिल रहा है. ओबीसी में शामिल मात्र 10 फीसदी जातियों ने लगभग 25 प्रतिशत सुविधाओं का इस्तेमाल किया है. यानी इन्हीं को नौकरी और दाखिला में लाभ मिला है.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, जिन जातियों ने ओबीसी आरक्षण का सबसे ज्यादा लाभ लिया है, उनमें यादव, कुर्मी, जाट, सैनी, थेवर, एझावा और वोक्कालिगा जातियां शामिल हैं.

रिपोर्ट तैयार करने के लिए ओबीसी कोटे के तहत बीते 5 साल में दी गई 1.3 लाख केंद्रीय नौकरियों का अध्ययन किया गया है. इसके साथ ही सेंट्रल यूनिवर्सिटी, आईआईटी, एनआईटी, आईआईएम, और एम्स जैसे संस्थानों में हुए एडमिशन का भी अध्ययन किया गया है.

आंकड़ों से यह भी पता चलता है कि ओबीसी कोटा में कई राज्यों का हिस्सा भारत की आबादी में उनके हिस्से की तुलना में काफी अधिक है. वहीं कई राज्यों में जनसंख्या ज्यादा होने के बावजूद कोटा का लाभ जरूरी लोगों को नहीं मिल पा रहा है. रिपोर्ट में पता चला है कि ओबीसी की 983 जातियों का जहां आरक्षण का कोई लाभ नहीं मिला है, वहीं 994 जातियां सिर्फ 2.68 प्रतिशत ही आरक्षण का लाभ ले पा रही हैं.

यह रिपोर्ट Commission of Examine Sub-Categorisation of OBCs ने तैयार की है. इस कमीशन का गठन अक्टूबर, 2017 में किया गया था. बीते हफ्ते ही इस कमीशन का कार्यकाल 31 मई, 2019 तक के लिए बढ़ाया गया है. कमीशन की प्रमुख दिल्ली हाईकोर्ट की पूर्व चीफ जस्टिस जी रोहिनी ने रिपोर्ट को सारे मुख्य सचिवों और राज्यों के स्टेट ओबीसी कमीशन को उनकी राय के लिए भेज दिया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi