S M L

पन्नीरसेल्वम के बगावती तेवर, शशिकला ने बुलाई आपात बैठक

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि अगर पार्टी और लोग कहेंगे तो वे मुख्यमंत्री पद पर बने रहेंगे.

Updated On: Feb 07, 2017 11:22 PM IST

FP Staff

0
पन्नीरसेल्वम के बगावती तेवर, शशिकला ने बुलाई आपात बैठक

शशिकला नटराजन के तमिलनाडु के मुख्यमंत्री बनने की खबर के बाद एआईएडीएमके पार्टी के भीतर गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रही है. 5 फरवरी को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले ओ. पन्नीरसेल्वम द्वारा भी बगावत की खबरें आ रही हैं.

पन्नीरसेल्वम के बगावती तेवर के बाद इस बीच शशिकला ने अपने आवास पोएस गार्डन में इमरजेंसी बैठक बुलाई है.

दूसरी ओर शशिकला के करीबी सूत्रों के मुताबिक यह भी खबर आ रही है कि बुधवार को शशिकला मुख्यमंत्री के रूप में शपथ नहीं लेंगी. ऐसा सुप्रीम कोर्ट में उनके ऊपर चल रहे भ्रष्टाचार के मामले में आने वाले संभावित फैसले की वजह से हो सकता है.

सुप्रीम कोर्ट के संभावित फैसले का असर और पार्टी के भीतर उभरे मतभेद का मूल्यांकन करने के बाद ही शशिकला मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी. तब तक पन्नीरसेल्वम अंतरिम मुख्यमंत्री बने रहेंगे.

दूसरी मंगलवार देर रात पन्नीरसेल्वम जयललिता के स्मारक पर पहुंचे. वहां उनके साथ शशिकला या पार्टी का कोई अन्य वरिष्ठ नेता मौजूद नहीं था. इससे एआईएडीएमके के भीतर टूट और विभाजन की खबरें और तेज हो गई हैं.

एआईएडीएमके की आधिकारिक टीवी जया टीवी ने भी पन्नीरसेल्वम के जयललिता के स्मारक पर जाने की खबर को नहीं प्रसारित किया है.

जयललिता के स्मारक पर श्रद्धांजलि देने के बाद पन्नीरसेल्वम ने पत्रकारों से कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद उनकी लगातार बेइज्जती की गई है. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें इस्तीफा देने के लिए मजबूर किया गया.

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि वे 'अम्मा' द्वारा दिखाए गए रास्ते पर चले हैं. उन्होंने अपनी ड्यूटी को पूरा करने में किसी भी तरह की कसर नहीं छोड़ी है.

इस बीच मरीना बीच पर जयललिता की समाधि पर पहुंचे पन्नीरसेल्वम ने कहा कि वो पार्टी और कार्यकर्ताओं के कहने पर अपना इस्तीफा वापस भी ले सकते हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि शशिकला के आवास पर हुई बैठक में पार्टी के नेताओं ने उनसे शशिकला के लिए मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ करने को कहा.

उन्होंने यह भी कहा कि वे कई मुद्दों का खुलासा करेंगे. वे नहीं चाहते कि पार्टी में किसी तरह का विभाजन हो. उन्होंने कहा कि ऐसी कई बातें हैं जो लोगों के सामने आनी चाहिए और वे अकेले संघर्ष करते रहेंगे.

इस बीच एआईएडीएमके के प्रवक्ता ने कहा कि पन्नीरसेल्वम झूठ बोल रहे हैं. उनके पास विधायकों का समर्थन नहीं है.

पत्रकारों से बात करने के बाद पन्नीरसेल्वम अपने आवास पर पहुंच गए हैं. अब सभी की निगाहें शशिकला के ऊपर है.

इस बीच कांग्रेस ने यह कहा कि बीजेपी पन्नीरसेल्वम के द्वारा राज्य में अस्थिरता पैदा करने की कोशिश कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi