विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

‘आप’ को 2 करोड़ के चंदे के मामले में नया मोड़, सामने आया चंदा देने वाला

मुकेश शर्मा नाम के एक शख्स ने एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार में दो करोड़ रुपए चंदा देने की बात स्वीकारी

Ravishankar Singh Ravishankar Singh Updated On: May 19, 2017 10:12 AM IST

0
‘आप’ को 2 करोड़ के चंदे के मामले में नया मोड़, सामने आया चंदा देने वाला

आम आदमी पार्टी को दो करोड़ रुपए चंदा देने के मामले में अब एक नया मोड़ आ गया है. गुरुवार को मुकेश शर्मा नाम के एक शख्स ने एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार में दो करोड़ रुपए चंदा देने की बात स्वीकारी है. आप पर फर्जी कंपनियों से यह चंदा लेने का आरोप है.

मुकेश शर्मा ने कहा है कि उसने तीन साल पहले आम आदमी पार्टी के खाते में 50-50 लाख के चार डिमांड ड्राफ्ट जमा कराए थे.

आम आदमी पार्टी पर चंदा लेने के आरोप तीन साल पहले लगे थे. ऐसे में तीन साल बाद मुकेश का सामने आना भी कम चौंकाने वाला नहीं है. दिल्ली के नॉर्थ-ईस्ट जिले के रहने वाले मुकेश शर्मा ने हिंदी न्यूज चैनल एनडीटीवी पर चंदा देने की बात कबूली है.

मुकेश शर्मा के दावों में कितना दम है?

मुकेश का कहना है कि उनकी कंपनी फर्जी नहीं है और उन्होंने 2014 के अप्रैल में आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ रुपए चंदा दिया था.

दिल्ली सरकार के बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा ने कुछ दिन पहले ही आम आदमी पार्टी पर फर्जी कंपनियों से 2 करोड़ रुपए चंदा लेने का आरोप लगाया था.

कपिल मिश्रा ने एंटी करप्शन ब्यूरों में शिकायत दर्ज कराई थी

कपिल मिश्रा ने एंटी करप्शन ब्यूरों में शिकायत दर्ज कराई थी

मुकेश शर्मा का कहना है कि वह कोई राजनीतिक विवाद में नहीं पड़ना चाहते हैं, इसलिए उन्होंने उस वक्त सबके सामने यह बात नहीं कही.

यह भी पढ़ें: दिल्ली में ओजोन गैस का लेवल खतरनाक स्तर तक पहुंचा

आयकर विभाग का कहना है कि मुकेश शर्मा के दावे में कितना दम है यह जांच के बाद ही पता चलेगा. आयकर विभाग अगले कुछ दिनों में मुकेश शर्मा से पूछताछ कर सकती है.

सूत्र बताते हैं कि आयकर विभाग के साथ दिल्ली पुलिस भी मामले की जांच कर सकती है. दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने दिल्ली पुलिस की एंटी करप्शन ब्रांच में भी इसकी शिकायत दर्ज करा रखी है.

मुकेश शर्मा के दावे का भी पोल खुल सकता है. क्योंकि, मुकेश ने यह भी बताया है कि उन्होंने न तो कभी अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की है और न ही वो उन्हें जानते हैं. ऐसे में यह बात हजम करना मुश्किल है कि कोई व्यक्ति दो करोड़ रुपए कैसे पार्टी फंड में जमा कर सकता है.

मुकेश शर्मा का कहना है कि उनकी मुलाकात आप के खजांची संजू और सचिव पंकज गुप्ता से हुई थी.

मुकेश ने कहा कि उन्होंने आप को 2 करोड़ रुपये चंदा इसलिए दिए था क्योंकि उन्हें लगता था कि ये लोग राजनीति में कुछ अच्छा और नया करने आए हैं.

चंदे में हेरा-फेरी का लगाया था आरोप

बता दें कि दिल्ली के बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था कि आम आदमी पार्टी ने फर्जी कंपनियों से दो करोड़ रुपये चंदा लिया है. उन्होंने कहा था कि चंदा देने वाले न तो किसी शख्स का अता-पता है और न ही तथाकथित दानदाता कंपनियों का कुछ पता है.

Kapil Mishra

(फोटो: पीटीआई)

मुकेश ने बताया कि उनकी चार कंपनियां हैं जो कर्ज लेने-देने और जमीन की खरीद-बिक्री का कारोबार करती है. मुकेश ने बताया कि उनकी कंपनियों के नाम हैं स्काई लाइन मेटल एंड अलॉय प्राइवेट लिमिटेड, सनविजन एजेंसीज प्राइवेट लिमिटेड, इन्फोलेन्स सॉफ्टवेयर सॉल्यूशंस लिमिटेड और गोल्डमाइन एंड बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड है.

यह भी पढ़ें: चिदंबरम पर नकेल कसना उतना आसान नहीं, जितना सीबीआई समझ रही है?

हम आपको बता दें कि दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने 16 मई को सीबीआई में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आम आदमी पार्टी के चंदे में हेरा-फेरी, फर्जी कंपनियों के माध्यम से काले धन को सफेद करने और धन शोधन का मामला दर्ज कराया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi