S M L

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद UP सरकार ने भेजे पूर्व मुख्यमंत्रियो को बंगले खाली करने के नोटिस

उत्तर प्रदेश सरकार ने जारी किए पूर्व मुख्यमंत्रियों को नोटिस, बंगले खाली करने का दिया 15 दिन का समय

Updated On: May 18, 2018 11:10 AM IST

Bhasha

0
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद UP सरकार ने भेजे पूर्व मुख्यमंत्रियो को बंगले खाली करने के नोटिस

उत्तर प्रदेश के राज्य संपत्ति विभाग ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को मानते हुए पूर्व मुख्यमंत्रियों को नोटिस जारी कर 15 दिन के अंदर सरकारी बंगले खाली करने का नोटिस जारी किया है.

राज्य संपत्ति विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नोटिस जारी किये जा रहे हैं. कल सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को ये नोटिस पहुंच जाएंगे.

इस समय छह पूर्व मुख्यमंत्रियों नारायण दत्त तिवारी, मुलायम सिंह यादव, कल्याण सिंह, मायावती, राजनाथ सिंह और अखिलेश यादव के पास सरकारी बंगले हैं जो वीवीआईपी जोन में पड़ते हैं.

मालूम हो सुप्रीम कोर्ट ने इस महीने की शुरूआत में कहा कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सरकारी बंगले में नहीं रह सकते. शीर्ष अदालत ने कहा कि अगर किसी मुख्यमंत्री का कार्यकाल समाप्त होता है तो वह आम आदमी की तरह ही हो जाता है.

अदालत ने लोक प्रहरी नामक एनजीओ की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई के दौरान ये फैसला सुनाया था. याचिका में उत्तर प्रदेश मंत्री :वेतन भत्ते एवं अन्य प्रावधान: कानून 1981 में अखिलेश यादव की सरकार की ओर से किये गये संशोधनों को चुनौती दी गई थी.

मालूम हो कि समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके पांच कालिदास मार्ग स्थित आवास पर मुलाकात की थी. जिसके बारे में बताया जाता है कि वह सुप्रीम कोर्ट द्वारा पूर्व मुख्यमंत्रियों से उनके सरकारी बंगले खाली करने के निर्देश से पैदा हुए हालातों पर चर्चा करने गए थे.

yogi (1)

सरकारी अधिकारियों ने इसे शिष्टाचार भेंट बताया था. जबकि मुलायम के करीबी मानते हैं कि उन्होंने अपने बंगले से जुडे़ विषय पर बात कि थी.

मुलायम पांच विक्रमादित्य मार्ग पर रहते हैं जबकि उनके पुत्र अखिलेश यादव चार विक्रमादित्य मार्ग पर रहते हैं.

MULAYAM SINGH YADAV

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi