S M L

अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा से पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा- आज का दिन संसदीय लोकतंत्र में बहुत ही महत्वपूर्ण

बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ तेलुगू देशम ने इसी साल मार्च में भी अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था, तब स्पीकर ने इसे खारिज कर दिया था लेकिन अब उन्होंने इसे मंजूर कर लिया है

Updated On: Jul 20, 2018 08:28 AM IST

FP Staff

0
अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा से पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा- आज का दिन संसदीय लोकतंत्र में बहुत ही महत्वपूर्ण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी बीजेपी के लिए आज यानी शुक्रवार का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है. बीते 18 जुलाई को लोकसभा में स्पीकर सुमित्रा महाजन ने तेलुगू देशम पार्टी के अविश्वास प्रस्ताव को मंजूर कर लिया था. इसके बाद उन्होंने शुक्रवार यानि 20 जुलाई को अविश्वास मत पर शक्ति परीक्षण कराने के निर्देश दिए. आज 20 जुलाई का दिन है.

ऐसे में लोकसभा में अपनी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा और वोटिंग से पहले पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'हमारे संसदीय लोकतंत्र में आज का दिन बहुत ही महत्वपूर्ण है. मुझे पूरा भरोसा है कि मेरे साथी सांसद इस मौके पर तर्कसंगत, व्यापक और बिना हंगामे की चर्चा को सुनिश्चित करेंगे.'

बता दें कि नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ तेलुगू देशम ने इसी साल मार्च में भी अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था, तब स्पीकर ने इसे खारिज कर दिया था लेकिन अब उन्होंने इसे मंजूर कर लिया है. लोकसभा में सदस्यों की कुल संख्या 544 होती है लेकिन अभी इसमें 534 सदस्य है.

चूंकि लोकसभा में वास्तविक सदस्यों की संख्या फिलहाल 534 है. लिहाजा इस प्रस्ताव को गिराने के लिए उसके पास कम से कम 268 सांसदों का समर्थन होना जरूरी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi