S M L

अविश्वास प्रस्ताव पर टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला के भाषण की 10 अहम बातें

टीडीपी सांसद जयदेल गल्ला ने कहा, आप (पीएम मोदी) एक अलग राग आलाप रहे हैं जिसे आंध्र के लोग समझ रहे हैं. वहां के लोग भावी चुनाव में इसका जवाब देंगे

Updated On: Jul 20, 2018 12:41 PM IST

FP Staff

0
अविश्वास प्रस्ताव पर टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला के भाषण की 10 अहम बातें

संसद में पेश अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा जारी है. आंध्र प्रदेश की तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) ने बहस के दौरान केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला. टीडीपी सांसद जयदेव गल्ला ने सरकार से पूछा कि विशेष राज्य के दर्जे की मांग को लेकर किए गए वादे का क्या हुआ. पेश है उनके भाषण की 10 बड़ी बातें-

- पीएम महोदय बताएं कि न खाउंगा न खाने दूंगा का क्या हुआ?

-टीडीपी ने कहा, गुजरात में सरदार पटेल की मूर्ति, महाराष्ट्र में छत्रपति शिवाजी की मूर्ति के लिए हजारों करोड़ रुपए दिए जा रहे हैं, पर हमें पैसे नहीं दिए जा रहे.

-सेश के नाम पर कमा रही है सरकार पर राज्यों को नहीं दे रही

-आंध्र में कांग्रेस जैसा हाल होगा बीजेपी का

-टीडीपी सांसद जयदेल गल्ला ने कहा, आप (पीएम मोदी) एक अलग राग आलाप रहे हैं जिसे आंध्र के लोग समझ रहे हैं. वहां के लोग भावी चुनाव में इसका जवाब देंगे. आंध्र प्रदेश में बीजेपी का वही हाल होगा, जो कांग्रेस का हुआ था.

-जयदेव गल्ला के इस बयान पर जबलपुर के बीजेपी सांसद राकेश सिंह ने कहा, गल्ला जिस 'श्राप' की बात कर रहे हैं, असल में जिस दिन वे कांग्रेस के साथ खड़े हो गए, उसी दिन उन्हें श्राप लग गया.

इससे पहले जयदेव गल्ला ने कहा था कि पीएम मोदी आंध्र प्रदेश के लोगों की मांग को धमकी न मानें बल्कि यह श्राप है.

-टीडीपी सांसद गल्ला ने लोकसभा में कहा, आंध्र प्रदेश में चुनावी अभियान के दौरान पीएम मोदी ने कहा था कि 'कांग्रेस ने मां की हत्या कर दी और बच्चे को बचा लिया. अगर मैं वहां होता तो बच्चे के साथ-साथ मां को भी बचा लेता.' आंध्र प्रदेश के लोगों ने अपनी मां को बचाने के लिए लगातार 4 साल इंतजार किया.

-1.5 लाख करोड़ चाहिए थे पर हमें मिले सिर्फ 30 हजार करोड़. बीजेपी ने कहा आंध्र को पहले कभी इतने पैसे नहीं मिले.

-टीडीपी ने कहा, मोदी सरकार ने कृषि कल्याण सेस, स्वच्छ भारत सेस, हाइयर एजुकेशन समेत अन्य सेस की मदद से 2016-17 में 2.35 लाख करोड़ रुपए कमाए पर फिर भी केंद्र के पास राज्यों के लिए पैसा नहीं है.

-बुंदेलखंड से भी ज्यादा भेदभाव आंध्र के साथ किया जा रहा है. आंध्र को आज भी विशेष पैकेज का इंतजार है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi