S M L

बिहार में सीट शेयरिंग के बाद राम मंदिर पर नीतीश कुमार का बयान, कहा- कोर्ट ही करेगा समाधान

2019 लोकसभा चुनाव के लिए बिहार एनडीए में सीट बंटवारे के बाद नीतीश कुमार ने राम मंदिर मुद्दे पर कहा, हमारी राय है कि राम मंदिर मामले को कोर्ट के फैसले के जरिए हल किया जाना चाहिए

Updated On: Dec 24, 2018 10:05 AM IST

FP Staff

0
बिहार में सीट शेयरिंग के बाद राम मंदिर पर नीतीश कुमार का बयान, कहा- कोर्ट ही करेगा समाधान

2019 लोकसभा चुनाव से पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मुद्दा लगातार चर्चा में है. हर कोई इस पर अपनी राय साझा कर रहा है. अब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस पर अपना बयान दिया है. न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार नीतीश ने कहा है कि राम मंदिर मामले को कोर्ट के निर्णय के जरिए ही हल किया जाना चाहिए. बीते रविवार को 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बिहार एनडीए में सीट बंटवारे के बाद नीतीश कुमार ने राम मंदिर मुद्दे पर कहा, हमारी राय है कि राम मंदिर मामले को कोर्ट के फैसले के जरिए हल किया जाना चाहिए.

नीतीश कुमार ने बिहार के विकास के प्रति अपनी प्रतिबद्धता भी जताई

इस दौरान नीतीश कुमार ने बिहार के विकास के प्रति अपनी प्रतिबद्धता भी जताई. उन्होंने कहा, हम बिहार में विकास के लिए प्रतिबद्ध है. उन्होंने राम मंदिर पर साफ कहा कि यह मुद्दा या तो अदालत के फैसले या आपसी समझ के जरिए हल किया जाना चाहिए. पत्रकारों को जवाब देते हुए उन्होंने कहा- हमने लंबे समय तक इस मुद्दे को बनाए रखा है. इसे या तो अदालत के फैसले या आपसी समझ से हल कर देना चाहिए. नीतीश कुमार का रुख एक अन्य बीजेपी सहयोगी, लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के विचारों को प्रतिध्वनित करता है.

चिराग पासवान ने कहा था राम मंदिर उनकी पार्टी की प्राथमिकता नहीं है

एलजेपी नेता चिराग पासवान ने हाल ही में कहा था कि राम मंदिर उनकी पार्टी की प्राथमिकता नहीं है और यहां तक कि बीजेपी को चेतावनी भी दी थी कि चुनाव में किसी भी तरह के नुकसान से बचने के लिए उसे विकास के लिए ध्यान केंद्रित करना चाहिए. नीतीश कुमार और रामविलास पासवान से घिरे बीजेपी प्रमुख अमित शाह ने रविवार को बिहार में 2019 लोकसभा चुनावों के लिए अंतिम सीट शेयरिंग समझौते की घोषणा की.

बीजेपी- जेडीयू 17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे जबकि 6 सीट एलजेपी के लिए 

इसके अनुसार बीजेपी और जेडीयू 17 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे जबकि 6 सीट एलजेपी के लिए छोड़ दिए जाएंगे. बिहार की 6 लोकसभा सीटों के अलावा, एलजेपी को उत्तर प्रदेश व झारखंड में एक सीट मिलने की संभावना है और राज्यसभा की एक सीट, जो पासवान द्वारा ली जाने की संभावना है. वहीं इस मौके पर नीतीश ने दावा किया कि 2019 में हम पिछले चुनावों के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन करेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi