विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

नीतीश की हालत अपहृत विमान के पायलट जैसी हो गई है: सुशील मोदी

सुशील ने लालू और उनके परिवार पर करीब एक हजार करोड़ रुपए की 'बेनामी संपत्ति' होने का दावा किया था

Bhasha Updated On: Jul 25, 2017 10:45 PM IST

0
नीतीश की हालत अपहृत विमान के पायलट जैसी हो गई है: सुशील मोदी

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने होटल के बदले भूखंड मामले में सीबीआई की प्राथमिकी पर उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से जनता की अदालत में सफाई देने को लेकर प्रदेश में सत्तासीन महागठबंधन सरकार के घटक दलों में जारी गतिरोध पर मंगलवार को कटाक्ष करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की स्थिति अपहृत विमान के पायलट जैसी हो गई है.

सुशील ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर आरोप लगाया कि नीतीश कुमार को महागठबंधन की ड्राइविंग सीट सौंपने पर आरजेडी ने पहले आनाकानी की और अब वह चाहती है कि गाड़ी भ्रष्टाचार के गहरे गड्ढों वाली सड़क पर उतार दी जाए.

उन्होंने कटाक्ष किया कि ड्राइवर (मुख्यमंत्री) की हालत अपहृत विमान के पायलट जैसी हो गई है.

आरजेडी उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने सोमवार को कहा था कि महागठबंधन रूपी गाड़ी की चालक के सीट पर बैठे नीतीश कुमार की जिम्मेदारी है कि वे घटक दलों के वरिष्ठ नेताओं ने बातचीत कर महागबंधन को एकजुट रखें.

सुशील ने लालू और उनके परिवार पर करीब एक हजार करोड़ रुपए की 'बेनामी संपत्ति' होने का दावा किया था और होटल के बदले भूखंड मामले में तेजस्वी के खिलाफ सीबीआई द्वारा प्राथमिकी दर्ज किए जाने पर उनके इस्तीफे की मांग पर अड़े हुए हैं.

आरजेडी कुतर्क कर रहा है

बिहार विधान परिषद में प्रतिपक्ष के नेता सुशील ने आरोप लगाया कि 26 साल की उम्र में 26 बेनामी संपत्ति अपने नाम कराने वाले तेजस्वी यादव के समर्थन में आरजेडी का नया कुतर्क यह है कि सरकारी दफ्तरों में भ्रष्टाचार जारी है, इसलिए इस मुद्दे पर जीरो टालरेंस की बात करना दिखावा है.

उन्होंने पूछा कि लालू प्रसाद बताएं कि अगर समाज में गरीबी, शोषण और सामाजिक अन्याय जारी है, तो क्या उसके खिलाफ संघर्ष नहीं होना चाहिए.

सुशील ने आरोप लगाया कि जिन लोगों ने बेनामी संपत्ति जमाकर परिवार की सात पीढियों का इंतजाम कर लिया वे विकास में तेजी लाकर रोजगार सृजन की नीतियों का विरोध कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि आईएमएफ की ताजा रिपोर्ट के अनुसार भारत में नोटबंदी आर्थिक सुधार और ढांचागत निवेश बढने से 2018 तके जीडीपी की विकास दर 7.7 रहने का अनुमान है जिससे युवाओं को रोजगार के काफी अवसर मिलेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi