विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

पहली बार किसी महिला को मिला रक्षा मंत्रालय का जिम्मा

निर्मला सीतारमण ने तमिलनाडु से ग्रेजुएशन करने के बाद जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से एमफिल किया है

FP Staff Updated On: Sep 03, 2017 03:03 PM IST

0
पहली बार किसी महिला को मिला रक्षा मंत्रालय का जिम्मा

कैबिनेट के विस्तार में निर्मला सीतारमण देश की पहली स्वतंत्र प्रभार वाली महिला रक्षा मंत्री बनी हैं. इससे पहले प्रधानमंत्री रहते हुए इंदिरा गांधी ने दो साल तक रक्षा मंत्री का कार्यभार संभाला था. निर्मला सीतारमण इससे पहले देश की वाणिज्य मंत्री थीं.

इंदिरा गांधी जब प्रधानमंत्री थीं तो उन्होंने रक्षा मंत्रालय का जिम्मा खुद अपने पास रक्षा था. अगर इंदिरा गांधी का छोड़ दें तो निर्मला सीतारमण देश की पहली ऐसी महिला हैं जिन्हें रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है.

अमेरिका में वीजा नियमों में सख्ती से भारतीय कंपनियों, और खासतौर पर आईटी सेवा प्रदाता कंपनियों के प्रभावित होने को लेकर अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत की चिंता को असरदार तरीके से रखने वाली निर्मला सीतारमण का आज ही नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल में प्रमोशन हुआ है.

आज यानी रविवार को उन्हें कैबिनेट मंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई है. आंध्रप्रदेश की रहने वाली निर्मला सीतारमण अब तक वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री स्वतंत्र प्रभार के तौर मंत्रिपरिषद में जिम्मेदारी संभाल रही थीं. इससे पहले उन्होंने वित्त एवं कारपोरेट मामलों की राज्य मंत्री का दायित्व निर्वाह किया.

प्रवक्ता के तौर पर बीजेपी में हुई थीं शामिल

बीजेपी की प्रवक्ता रह चुकीं निर्मला इस पार्टी से साल 2006 में जुड़ी थीं. प्रवक्ता के तौर पर उन्होंने विभिन्न मीडिया मंचों पर अपनी पार्टी की नीतियों का प्रभावी तरीके से प्रचार प्रसार एवं बचाव किया.

दिलचस्प बात यह है कि इस भूमिका में रहते हुए निर्मला दिल्ली की तुलना में गुजरात में खासी लोकप्रिय हो गई थीं. साल 2014 में जब लोकसभा चुनाव हुए तब बीजेपी की प्रवक्ता रहते हुए निर्मला ने 'प्रधानमंत्री पद के लिए मोदी' संदेश का असरदार तरीके से प्रचार किया.

निर्मला सीतारमण ने 1980 में सीतालक्ष्मी रामास्वामि कॉलेज, तिरुचिरापल्ली, तमिलनाडु से ग्रेजुएशन किया है. उसके बाद जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय से एमफिल किया है. उनको अरुण जेटली की जगह रक्षा मंत्री बनाया गया है. इंदिरा गांधी के बाद ऐसा पहली बार है जब किसी महिला को रक्षा मंत्रालय मिला हो.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi