S M L

लोकसभा चुनावों में सबसे बड़ा दल बनेगा NDA मगर नहीं मिलेगा पूर्ण बहुमत: सर्वे

पोल में बताया गया है कि NDA को लोकसभा चुनाव में 252 सीटें मिल सकती हैं वहीं यूपीए 147 सीटें हासिल कर सकती है

Updated On: Jan 31, 2019 09:14 AM IST

FP Staff

0
लोकसभा चुनावों में सबसे बड़ा दल बनेगा NDA मगर नहीं मिलेगा पूर्ण बहुमत: सर्वे

इस साल होने वाले लोकसभा चुनावों में बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीए सबसे बड़े दल के रूप में उभर सकती है लेकिन उसे पूर्ण बहुमत नहीं मिलेगा. ये बात एक टाइम्‍स नाऊ और सर्वे एजेंसी वीपीएम के ओपिनियन में सामने आई है. वहीं दूसरी तरफ यूपीए भी इस बार कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाएगी.

न्यूज 18 के मुताबिक पोल में बताया गया है कि NDA को लोकसभा चुनाव में 252 सीटें मिल सकती हैं वहीं यूपीए 147 सीटें हासिल कर सकती है. वहीं क्षेत्रीय और बाकी राष्‍ट्रीय पार्टियों को 144 सीट मिल सकती है. 543 सदस्‍यों वाली लोकसभा में बीजेपी ने 2014 ने बहुमत के लिए जरूरी 272 से 10 सीट ज्‍यादा 282 पर जीत हासिल की थी. इस तरह से उसके गठबंधन को कुल 336 सीटें मिली थी.

बीजेपी का किन-किन राज्यों पर रहेगा असर

सर्वे के मुताबिक बीजेपी गुजरात और महाराष्ट्र जैसे राज्यों में काफी अच्छा प्रदर्शन करेगी. महाराष्ट्र में बीजेपी शिवसेना के साथ 43 सीटें जीत सकती हैं वहीं गुजरात में 24 सीटें उसके खाते में आ सकती है.

यूपी में लग सकता है झटका

सर्वे से पता चला है कि इस बार बीजेपी को उत्तर प्रदेश में बड़ा झटका लग सकता है और इसकी वजह बन सकता है एसपी-बीएसपी गठबंधन. यहां बीजेपी को केवल 27 सीटें ही मिल सकती है. वहीं एसपी-बीएसपी गठबंधन 51 सीटों के साथ जीत हासिल कर सकता है. 2014 में बीजेपी ने यूपी में 71 सीट जीती थी.

इन राज्यों में बीजेपी बन सकती है सबसे बड़ी पार्टी

बताया ये भी जा रहा है कि मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बन कर उभरेगी. राजस्‍थान में उसे 25 में से 17, एमपी में 29 में से 23 और छत्‍तीसगढ़ में 11 में से पांच सीट मिल सकती है. बिहार में भी महागठबंधन एनडीए को झटका दे सकता है. यहां पर एनडीए को 25 जबकि आरजेडी, कांग्रेस और आरएलएसपी के महागठबंधन को 15 सीट मिल सकती है.

सर्वे में अनुमान लगाया गया है कि नागरिकता बिल के बावजूद एनडीए को पूर्वोत्‍तर में फायदा होगा. यहां की कुल 25 में से 17 सीटें उसके खाते में जा सकती है.

दक्षिण में कांग्रेस का पलड़ा भारी

दक्षिण भारत के राज्‍यों में बीजेपी के लिए अच्‍छी खबर नहीं है. यहां पर कांग्रेस और अन्‍य स्‍थानीय दलों का पलड़ा भारी रहेगा. सर्वे में बताया गया है कि तमिलनाडु में कांग्रेस और डीएमके मिलकर 39 में से 35 सीट जीत सकते हैं. केरल में बीजेपी अपना खाता खोल सकती है लेकिन कांग्रेस नेतृत्व वाला एलडीएफ गठबंधन 16 सीटों के साथ सबसे आगे रहेगा.

कर्नाटक में मुकाबला बराबरी का रह सकता है. वहीं आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी को झटका लग सकता है. वाईएसआर कांग्रेस यहां बाजी मार सकती है. तेलंगाना में टीआरएस का दबदबा रहने की संभावना जताई गई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi