Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

केटरिंग स्टाफ के लिए रेलवे का नया यूनिफॉर्म, 'नो टिप्स प्लीज़'

रेलवे ट्रेन में चलने वाले करीब 17000 केटरिंग स्टाफ को यह खास यूनिफॉर्म पहनाने जा रहा है

FP Staff Updated On: Aug 07, 2017 08:53 PM IST

0
केटरिंग स्टाफ के लिए रेलवे का नया यूनिफॉर्म, 'नो टिप्स प्लीज़'

भारतीय रेल ने ट्रेनों में चलने वाले केटरिंग स्टाफ के लिए एक नया यूनिफॉर्म बनवाया है. इस यूनिफॉर्म पर लिखा होगा 'कृपया टिप न दें'. भारतीय रेल हर रोज करीब 11 लाख मुसाफिरों को खानपान सेवा देता है. इनमें से करीब 10 लाख लोग चलती ट्रेन में भारतीय रेल का खाना खाते हैं. रेलवे ज्यादातर भोजन की व्यवस्था अपने ठेकेदारों के जरिए कराता है. लेकिन ठेकेदारों के अंदर काम करने वाले खानपान के स्टाफ हर सफर के दौरान मुसाफिरों से टिप मांगते हैं.

भारतीय रेल ने इसे बंद करने की कई बार अपील भी की है लेकिन टिप मांगने का यह सिलसिला बदस्तूर जारी है. अब रेलवे इस योजना पर काम कर रहा है कि ट्रेन में चलने वाले करीब 17000 केटरिंग स्टाफ को यह खास यूनिफॉर्म पहनाने जा रहा है. इस पर बड़े अक्षरों में साफ लिखा है कि कृपया टिप न दें.

Untitled-6-2

भारतीय रेल के करीब 350 ट्रेनों में पैंट्री कार की सुविधा मौजूद है. वहीं रेलवे की करीब 750 ट्रेनों का सफर 24 घंटे से ज़्यादा का होता है और इनमें केटरिंग कि सुविधा मौजूद होती है. इसके अलावा भी कई मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों में केटरिंग की सुविधा होती है जिनमें स्टैटिक यूनिट से खानपान उपलब्ध कराया जाता है.

पिछले महीने रेलवे की खानपान सेवा पर कैग की रिपोर्ट आयी थी, जिसमें रेलवे के खानपान को बदतर बताया गया था. उसके बाद से भारतीय रेल अपनी खानपान सेवा में लगातार बदलाव और सुधार करने की कोशिश कर रहा है. देखना होगा कि इस नई पोशाक के बाद क्या ये पुरानी परंपरा बदल पाएगी.

(साभार न्यूज़ 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi