S M L

नेताजी की हत्या में रूस के पूर्व राष्ट्रपति की भूमिका थी : स्वामी

स्वामी ने 1945 में बोस की मृत्यु की बात को भी गलत ठहराते हुए कहा कि यह नेहरू और जापानियों की साजिश है

Updated On: Sep 30, 2018 12:15 PM IST

Bhasha

0
नेताजी की हत्या में रूस के पूर्व राष्ट्रपति की भूमिका थी : स्वामी

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने शनिवार को कहा कि 1945 में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत विमान हादसे में नहीं हुई थी. उनकी हत्या में रूस के पूर्व राष्ट्रपति जोसेफ स्टालिन का हाथ था, लेकिन ज्यादातर लोगों का यही मानना है कि नेताजी की मौत हादसे में हुई थी.

सांस्कृतिक गौरव संस्था द्वारा यहां रवीन्द्र शतवार्षिकी भवन में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वामी ने कहा कि बोस ने साम्यवादी रूस में शरण मांगी थी, जहां बाद में उनकी हत्या कर दी गई.

स्वामी ने 1945 में बोस की मृत्यु की बात को भी गलत ठहराते हुए कहा कि यह नेहरू और जापानियों की साजिश है. सुभाष चंद्र बोस ने रूस में शरण मांगी थी और उन्हें वहां शरण दी गई थी. जवाहर लाल नेहरू इसके बारे में सबकुछ जानते थे. इसके बावजूद उन्होंने कुछ नहीं किया. बाद में रूस में ही बोस की हत्या कर दी गई.

स्वामी ने यह भी दावा किया कि 75 साल पहले सिंगापुर में गठित हुई नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आजाद हिंद सरकार के चलते ही ब्रितानी औपनिवेशिक शासकों ने भारत को आजादी दी.

स्वामी ने इसके अलावा अनुच्छेद 370 पर अपनी राय रखते हुए कहा कि संविधान के अनुच्छेद 370 को भारत के राष्ट्रपति द्वारा सिर्फ एक अधिसूचना जोड़कर हटाया जा सकता है. यही अनुच्छेद कश्मीर को विशेष दर्जा प्रदान करता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi