S M L

भारत के राजदूत नामित किए गए नेपाल के पूर्व कानून मंत्री

प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की अध्यक्षता में कैबिनेट की एक बैठक में आचार्य का नाम इस राजनयिक पद के लिए प्रस्तावित किया गया

Updated On: Nov 12, 2018 04:32 PM IST

Bhasha

0
भारत के राजदूत नामित किए गए नेपाल के पूर्व कानून मंत्री

नेपाल की सरकार ने सोमवार को पूर्व कानून मंत्री और वरिष्ठ नेता नीलांबर आचार्य को भारत में राजदूत नामित किया है. पिछले साल दीप कुमार उपाध्याय के इस्तीफा देने और सक्रिय राजनीति में आने का फैसला करने के बाद भारत में नेपाली राजदूत का पद करीब एक साल से रिक्त था.

अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की अध्यक्षता में कैबिनेट की एक बैठक में आचार्य का नाम इस राजनयिक पद के लिए प्रस्तावित किया गया. आचार्य श्रीलंका में नेपाल के दूत रह चुके हैं.

उन्होंने मास्को विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि हासिल की. शुरू में उनका झुकाव वाम की ओर था. लेकिन बाद में वह नेपाली कांग्रेस में शामिल हो गए. वह 1990 की अंतरिम सरकार में कानून, न्याय और संसदीय मामलों के अलावा श्रम एवं समाज कल्याण मंत्री थे.

आचार्य का नाम अब मंजूरी के लिए एक संसदीय समिति को भेजा जाएगा जो प्रस्ताव विदेश मंत्रालय को भेजेगी. उसके बाद नेपाली विदेश मंत्रालय प्रस्ताव सहमति के लिए भारतीय विदेश मंत्रालय को भेजेगा. भारतीय विदेश मंत्रालय से सहमति मिलने और संबंधित ज्ञापन पर हस्ताक्षर होने के बाद प्रस्ताव नेपाली राष्ट्रपति को उनकी मंजूरी के लिए भेजा जाएगा.

इससे पहले सरकार ने पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त नीलकंठ उप्रेती को भारत में राजदूत नामित किया था. लेकिन आलोचनाओं को देखते हुए सरकार ने अपना फैसला वापस ले लिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi