S M L

पाकिस्तान जाने वाले बयान पर सिद्धू का यू-टर्न, बोले- राहुल गांधी ने नहीं भेजा था

सिद्धू ने अपने पहले दिए बयान से उलट शनिवार को कहा, 'राहुल गांधी ने उन्हें कभी पाकिस्तान जाने के लिए नहीं कहा. वो पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और अपने दोस्त इमरान खान ने बुलावे पर वहां गए थे'

Updated On: Dec 01, 2018 03:56 PM IST

FP Staff

0
पाकिस्तान जाने वाले बयान पर सिद्धू का यू-टर्न, बोले- राहुल गांधी ने नहीं भेजा था

पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू हाल के अपने पाकिस्तान दौरे को लेकर विवादों में घिरते जा रहे हैं. करतारपुर कॉरिडोर के शिलान्यास कार्यक्रम के लिए पाकिस्तान जाने को लेकर सिद्धू लगातार अपने बयान बदल रहे हैं. शुक्रवार को उन्होंने यह कहकर सबको चौंका दिया था कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने उन्हें पाकिस्तान जाने के लिए कहा था. लेकिन, शनिवार को वो अपने दिए इस बयान से पलट गए.

सिद्धू ने अब कहा कि राहुल गांधी ने उन्हें कभी पाकिस्तान जाने के लिए नहीं कहा. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और उनके दोस्त इमरान खान ने उन्हें वहां बुलाया था.

सिद्धू ने ट्वीट कर अपने पहले वाले बयान पर सफाई दी है. उन्होंने लिखा, 'तथ्यों की छेड़छाड़ करने से पहले अपने तथ्यों को सही कर लें. पूरी दुनिया जानती है कि मैं पाकिस्तान, वहां के प्रधानमंत्री इमरान खान के बुलावे पर गया था.'

सिद्धू ने इससे पहले शुक्रवार को कहा था, 'मेरे कप्तान राहुल गांधी हैं और उन्हीं के कहने पर मुझे सभी जगह भेजा गया. कैप्टन अमरिंदर सिंह तो आर्मी के कैप्टन हैं. राहुल गांधी उनके भी कप्तान हैं. पाकिस्तान जाने पर हरीश रावत, सुरजेवाला और शशि थरूर समेत पार्टी के 50-100 नेताओं ने मेरी पीठ थपथपाई है.'

चुनाव प्रचार के लिए तेलंगाना पहुंचे सिद्धू ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा था, '20 कांग्रेसी नेताओं ने पाकिस्तान जाने पर सहमति जताई थी. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह मेरे पिता तुल्य हैं और उन्होंने मुझे पाकिस्तान जाने से मना किया था, लेकिन मैं कमिटमेंट कर चुका था.

इमरान खान-नवजोत सिंह सिद्धू

इमरान खान-नवजोत सिंह सिद्धू

सिद्धू के पाकिस्तान दौरे से पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह चिढ़े हुए हैं

सिद्धू के पाक दौरे से पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह चिढ़े हुए हैं, उन्होंने कहा था कि अपने मंत्रिमंडल के सदस्य सिद्धू को उन्होंने अमृतसर में एक धार्मिक कार्यक्रम पर ग्रेनेड हमले में 3 लोगों के मारे जाने के बाद पाकिस्तान जाने से रोकने की कोशिश की थी. लेकिन उन्होंने इसे अनसुना कर दिया. सिंह ने इस हमले के लिए पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई को जिम्मेदार बताया था.

इससे पहले गुरुवार को भारत आने के बाद सिद्धू ने कहा था कि दोनों देशों के बीच दुश्‍मनी खत्‍म होनी चाहिए.

बता दें कि खालिस्तान समर्थक नेता गोपाल चावला के साथ सिद्धू की तस्वीरें वायरल होने के बाद देश में राजनीति तेज हो गई है. इस पर जवाब देते हुए सिद्धू ने कहा था, 'पाकिस्तान में मेरी 5-10 हजार तस्वीरें खींची गईं, मुझे नहीं पता गोपाल चावला कौन है.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi