S M L

बजट 2017: अब नेशनल टेस्ट एजेंसी करवाएगी उच्च शिक्षा के लिए परीक्षा

वित्त मंत्री ने अपने भाषण के दौरान कहा कि एक नेश्नल टेस्टिंग एजेंसी का गठन किया जाएगा

Updated On: Feb 01, 2017 05:46 PM IST

FP Staff

0
बजट 2017: अब नेशनल टेस्ट एजेंसी करवाएगी उच्च शिक्षा के लिए परीक्षा

केंद्रीय वित्त-मंत्री अरुण जेटली ने 2017 के बजट में देशभर में फैले सभी उच्च शिक्षा संस्थानों की परीक्षा एक प्राधिकरण के जरिए करवाने का ऐलान किया है.

जिन संस्थानों पर इस फैसले का असर होगा उनमें  ज़ी, नीत और नेट परिक्षाएं शामिल हैं.

वित्त मंत्री ने अपने भाषण के दौरान जानकारी देते हुए कहा कि इसके लिए एक 'नेश्नल टेस्टिंग एजेंसी' का गठन किया जाएगा.

इस संस्था के गठन के साथ ही सीबीएसई, एआईसीटीई और ऐसे अन्य संस्थान परीक्षा करवाने की जिम्मेदारी से मुक्त हो जाएंगे
.

जेटली न कहा कि उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार यूजीसी में सुधार लाएगी और कई कॉलेजों और शिक्षा संस्थानों को स्वायत्ता प्रदान करेगी.

सेकेंडरी एजुकेशन फंड

उनके मुताबिक सरकार एक ऐसा सिस्टम भी बनाएगी जिसके तहत स्कूलों में एक ऐसा सिस्टम बनाया जाएगा जिसके तहत सालाना छात्रों की पढ़ाई का फायदों के बारे में पता लगाया जा सकेगा.

जिसके बाद स्कूलों में सेकेंडरी एजुकेशन के लिए फंड की शुरुआत की जा सकेगी.

पिछले साल ही सीबीएसई ने यूजीसी से नेट की परीक्षा आयोजित करवाने की मंजूरी मांगी थी, क्योंकि बोर्ड अपने हिसाब परीक्षा करवाना चाहता था ताकि शिक्षा के स्तर को बेहतर किया जा सके.

ये भी पढ़ें : चुटकियों में समझिए बजट का क..ख..ग

ऐसी खबर है कि सीबीएसई ने एचआरडी मिनिस्ट्री से कहा है कि विभिन्न सरकारी संस्थाओं के लिए परीक्षा करवाना उनके लिए काफी परेशानी खड़ी कर देता है और उनके संसाधनों पर भी बुरा असर पड़ता है.

इसलिए वो चाहते हैं कि अब से ये परीक्षा किसी और संस्था के जिम्मे दे दिया जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi