S M L

अपने घर, अपने देश के बारे में चिंता जताना अपराध कब से हो गया: नसीरूद्दीन शाह

नसीर साहब के बयान के बाद से ही लोग उनकी धार्मिक पहचान की वजह से विरोध कर रहे हैं. अगर ऐसा है तो फिर उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा

Updated On: Dec 21, 2018 03:43 PM IST

FP Staff

0
अपने घर, अपने देश के बारे में चिंता जताना अपराध कब से हो गया: नसीरूद्दीन शाह

बॉलीवुड के वेटरन एक्टर नसीरूद्दीन शाह देश में बढ़ती असहिष्णुता पर बोल कर फंस गए हैं. गुरुवार को नसीरुद्दीन शाह का एक वीडियो यूट्यूब पर वायरल हुआ. इसमें उन्होंने समाज के बदलते स्वरूप को लेकर गुस्सा जाहिर किया था.

नसीरुद्दीन शाह ने कहा था, 'हमने बुलंदशहर हिंसा में देखा कि आज देश में एक गाय की मौत की अहमियत पुलिस ऑफिसर की जान से ज्यादा होती है. इन दिनों समाज में चारों तरफ जहर फैल गया है. मुझे इस बात से डर लगता है कि अगर कहीं मेरे बच्चों को भीड़ ने घेर लिया और उनसे पूछा जाए कि तुम हिंदू हो या मुसलमान? मेरे बच्चों के पास इसका कोई जवाब नहीं होगा. पूरे समाज में जहर पहले ही फैल चुका है.'

ये भी पढ़ें: बात सिर्फ नसीर साहब की नहीं है...दरअसल हम किसी मुसलमान के मुंह से भारत की बुराई सुनना नहीं चाहते

उनका इतना कहना था कि सोशल मीडिया पर लोग उनके ऊपर पिल पड़े. इसके बाद आज नसीर साहब ने आज अपने उस बयान के बारे में फिर से बेबाकी से बोला. उन्होंने कहा- 'मैंने पहले जो कहा वह एक चिंतित भारतीय था. इस बार मैंने ऐसा क्या कहा कि मुझे गद्दार माना जा रहा है? मैं उस देश के बारे में अपनी चिंता व्यक्त कर रहा हूं जिसे मैं प्यार करता हूं, वह देश जो मेरा घर है. यह अपराध कैसे है?'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi