S M L

ट्रिपल तलाक: क्या सदन में लाई गईं मुस्लिम महिलाएं फर्जी थीं!

ट्रिपल तलाक बिल पेश किए जाने के दौरान राज्यसभा में मौजूद मुस्लिम महिलाओं के बारे में नरेश अग्रवाल ने कहा, 'इसकी क्या गारंटी है कि वो मुस्लिम थीं

Updated On: Jan 03, 2018 06:45 PM IST

FP Staff

0
ट्रिपल तलाक: क्या सदन में लाई गईं मुस्लिम महिलाएं फर्जी थीं!

राज्यसभा में बुधवार को ट्रिपल तलाक पर बिल पेश किया गया. विपक्ष ने बिल का जमकर विरोध किया, जिस कारण बिल पास नहीं हो सका. कांग्रेस बिल को सेलेक्ट कमेटी को भेजने की मांग पर अड़ी रही. वहीं सरकार ने भी साफ कर दिया कि वो बिल को सेलेक्ट कमेटी को नहीं भेजेगी. कांग्रेस के साथ टीएमसी, एसपी और बीजेडी के सांसदों ने भी हंगामा किया. वहीं हंगामे से पहले कांग्रेस ने वोटिंग कराए जाने की भी मांग की. जबरदस्त हंगामे को देखते हुए राज्यसभा की कार्यवाही 4 जनवरी, 2018 सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.

इस सबके बीच सपा नेता नरेश अग्रवाल ने एक बार फिर बीजेपी पर निशाना साधा. उन्होंने ट्रिपल तलाक बिल पेश किए जाने के दौरान राज्यसभा में मौजूद मुस्लिम महिलाओं के बारे में कहा, 'इसकी क्या गारंटी है कि वो मुस्लिम थीं, आपने देखा? क्या पता वो बीजेपी के महिला मोर्चा की सदस्य हों.'

वहीं कांग्रेस के नेतृत्व में 14 पार्टियां ट्रिपल तलाक बिल पर पुनर्विचार चाहती है. वहीं इसपर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि ये बिल लोकसभा से आया है. ऐसे में संशोधन के लिए एक दिन पहले नोटिस देना था.

उन्होंने कहा, हमें एकजुट रहना होगा. एक पार्टी बिल को खराब नहीं कर सकती. पूरा देश देख रहा है कि एक सदन में बिल का समर्थन किया गया और दूसरे सदन में विरोध किया जा रहा है. कांग्रेस ने संसदीय परंपरा को तोड़ा है. आज पहली बार संसदीय परंपराओं को तोड़ा गया है. कांग्रेस अब राज्यसभा में बिल का विरोध क्यों कर रही है, जब वो लोकसभा में इसका समर्थन कर चुकी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi