S M L

2022 तक सभी को घर मिल सके, इस ओर काम कर रही है सरकार: पीएम मोदी

मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने पिछले चार- साढे चार साल के दौरान रीयल एस्टेट क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए गंभीर प्रयास किए हैं

Updated On: Feb 13, 2019 09:20 PM IST

FP Staff

0
2022 तक सभी को घर मिल सके, इस ओर काम कर रही है सरकार: पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को कहा कि उनकी सरकार 2022 तक सभी के लिए घर बनाने के अपने महत्वाकांक्षी लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में जोर-शोर से काम कर रही है. मोदी ने रीयल एस्टेट सम्मेलन CREDAI को संबोधित करते हुए कहा कि गरीबों के लिए डेढ़ करोड़ मकान बनाए जा चुके हैं. ये मकान दोगुनी गति से बनाए गए हैं ताकि 2022 तक लक्ष्य को हासिल किया जा सके.

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2019-20 के अंतरिम बजट से आवास क्षेत्र को काफी फायदा होगा. बजट में घर खरीदारों के साथ-साथ किराएदारों के लिए भी कई प्रोत्साहन दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि बजट में पांच लाख रुपए तक की कमाई वालों को आयकर से पूरी छूट दी गई है. इसका लाभ भी आवास क्षेत्र को मिलेगा क्योंकि जो भी पैसा बचेगा वह आवास क्षेत्र में जाएगा.

मोदी ने कहा कि उनकी सरकार ने पिछले चार- साढे चार साल के दौरान रीयल एस्टेट क्षेत्र में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए गंभीर प्रयास किए हैं. उन्होंने कहा कि नोटबंदी से रीयल एस्टेट क्षेत्र में कालेधन के इस्तेमाल पर रोक लगी है. हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि उनके इस फैसले से शुरू में कुछ समस्याएं आई हैं क्योंकि उन्होंने समय से आगे रहते हुए काम किया है.

कांग्रेस और राहुल गांधी पर किया हमला

साथ ही उन्होंने कांग्रेस और राहुल गांधी पर जम कर निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'अमेठी ने लोगों ने नामदार परिवार पर आंख बंद कर के भरोसा किया. उन्हें प्यार और सपोर्ट दिया. वहां सांसद आवास योजना के तहत एक भी घर आवंटित नहीं किया गया. जबकि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर और शौचालय बनाए गए हैं.'

इसी के साथ प्रधानमंत्री मोदी ने उनकी सरकार और उसकी उपलब्धियों के बारे में गिनाया. उन्होंने कहा, 'देश के गरीब के घर का सपना पूरा हो, 2022 तक हर बेघर को अपना पक्का घर मिले, इस दिशा में तेजी से काम किया जा रहा है. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत देश के गांव और शहरों में लगभग 1.5 करोड़ गरीबों के घर बनाए जा चुके हैं, जिसमें से लगभग 15 लाख घर शहरी गरीबों के बनाए जा चुके हैं.'

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi