S M L

मुन्ना बजरंगी की हत्या पर CM योगी ने कहा, दोषियों को कतई नहीं बख्शेंगे

मुन्ना बजरंगी की हत्या पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं

FP Staff Updated On: Jul 09, 2018 12:09 PM IST

0
मुन्ना बजरंगी की हत्या पर CM योगी ने कहा, दोषियों को कतई नहीं बख्शेंगे

उत्तर प्रदेश के माफिया मुन्ना बजरंगी की सोमवार को यूपी के बागपत जेल में गोली मारकर हत्या कर दी गई. सोमवार को पूर्व बीएसपी विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के एक केस में बागपत कोर्ट में उसकी पेशी होनी थी. उसे रविवार को झांसी से बागपत लाया गया था. पेशी से पहले ही जेल में उसे गोली मार दी गई.

इस हत्याकांड में जेलर समेत चार पुलिसकर्मी सस्पेंड कर दिए गए हैं. उसके शरीर में 10 गोलियां मिली हैं. मुन्ना की हत्या में दो पिस्तौल का उपयोग किया गया. डीएम और एसपी आगे की जांच के लिए जेल पहुंच गए हैं.

मुन्ना बजरंगी की हत्या पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं. योगी ने कहा, 'जेल में हुई हत्या बहुत गंभीर मामला है. मामले की गहराई से जांच होगी. दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.'

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को गंभीरता से लेते हुए कहा कि वारदात के बारे में उन्होंने पुलिस महानिदेशक और गृह विभाग के प्रमुख सचिव से बात की है. इस प्रकरण में पहली नजर में जेलर के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं. साथ ही न्यायिक जांच के निर्देश भी दिए गए हैं. इसके बाद आगे की कार्यवाही की जाएगी.

उन्होंने कहा कि माफिया बजरंगी अनेक आपराधिक मामलों में लिप्त था लेकिन जेल के अंदर इस तरह की घटना बेहद गंभीर है. हम इसकी तह में जाएंगे, जो भी दोषी होगा, उसके खिलाफ ठोस कार्रवाई करेंगे.

इधर, गृह विभाग के प्रमुख सचिव अरविंद कुमार ने लखनऊ में बताया कि बजरंगी की जेल में हत्या के मामले में जेलर उदय प्रताप सिंह, डिप्टी जेलर शिवाजी यादव, हेड वार्डेन अरजिंदर सिंह और वार्डेन माधव कुमार को निलंबित कर दिया गया है.

कुछ दिन पहले मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने कहा था कि जब उनके पति कोर्ट में पेशी के लिए जेल से बाहर आएंगे तो उन्हें मार दिया जाएगा. इसके लिए उन्होंने पुलिस पर साजिश रचने का आरोप लगाया. एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीमा ने कहा, झांसी जेल में उनके पति पर हमला किया गया लेकिन ऐसा हमला जेल के बाहर हो तो वे शायद ही वे बच पाएं. मुन्ना बजरंगी की पत्नी ने कुछ नेताओं और बिजनेसमैन पर उसके पति को मरवाने की साजिश रचने का आरोप लगाया.

मुन्ना बजरंगी के वकील वी श्रीवास्तव ने कहा, बीती रात उसे झांसी जेल से बागपत लाया गया था. सोमवार सुबर जेल में बंद एक आरोपी ने उसकी हत्या कर दी. उसने नाले में पिस्तौल छुपा रखी थी. कुछ दिन पहले हमने यूपी के सीएम से मुन्ना बजरंगी की जान को खतरे के बारे में आगाह किया था.

मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह है. 1967 में यूपी के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में मुन्ना बजरंगी का जन्म हुआ था.

7 लाख का इनाम घोषित था. दिल्ली पुलिस ने पहले इसे गिरफ्तार किया था लेकिन वह फरार हो गया था. मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा ने 29 जून को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर हत्या की आशंका जताई थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi