S M L

NCP ने CM देवेंद्र फडणवीस पर लगाए बार मालिकों से सांठगांठ के आरोप

महाराष्ट्र की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने राज्य सरकार पर कोर्ट में केस लड़ने में ढिलाई बरतने के साथ-साथ कई गंभीर आरोप लगाए तो वहीं विपक्ष के साथ-साथ सरकार की सहयोगी शिवसेना ने भी सरकार को घेरा

Updated On: Jan 17, 2019 10:33 PM IST

FP Staff

0
NCP ने CM देवेंद्र फडणवीस पर लगाए बार मालिकों से सांठगांठ के आरोप

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को शर्तों के साथ डांस बार खोलने के आदेश दिए हैं, वहीं इस मुद्दे को लेकर सूबे की सियासी पार्टियां सरकार के खिलाफ लामबंद हो गईं हैं. एनसीपी ने डांस बार शुरू होने के लिए सीधे मुख्यमंत्री को जिम्मेदार ठहरा दिया और आरोप लगाया कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की बार मालिकों के साथ डील और सांठगांठ थी. एनसीपी ने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार ने कोर्ट में अपना पक्ष मजबूती से नहीं रखा, जिसकी वजह से कोर्ट ने गुरुवार को शर्तों के साथ डांस बार शुरू किए जाने के आदेश दे दिए.

महाराष्ट्र की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने राज्य सरकार पर कोर्ट में केस लड़ने में ढिलाई बरतने के साथ-साथ कई गंभीर आरोप लगाए तो वहीं विपक्ष के साथ-साथ सरकार की सहयोगी शिवसेना ने भी सरकार को घेरा.

एनसीपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा, "महाराष्ट्र की देवेंद्र फडणवीस सरकार को इसका खामियाज़ा आने वाले चुनाव में भुगतना पड़ेगा. हम इस मुद्दे को लेकर जनता के बीच जायेंगे और सरकार के खिलाफ आंदोलन करेंगे. इतना ही नहीं आने वाले चुनाव के बाद अगर हमारी सरकार आई तो विधानसभा में कानून बनाकर डांस बार पर पूरी तरह से पाबंदी लगा देंगे".

एनसीपी के साथ-साथ पूरे मामले पर शिवसेना भी एनसीपी से सुर से सुर मिलाती दिखी और कोर्ट के आदेश पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि डांस बार खुलना दुर्भाग्यपूर्ण है. डांस बार के बारे में जो कानून बनाया गया, वह कमज़ोर था.

चारों ओर से खुद को घिरता देख सरकार के कैबिनेट मंत्री विनोद तावड़े सामने आए और विपक्ष के आरोपों को खारिज कर दिया. उन्होंने बताया कि सरकार ने अपना पक्ष पूरी मजबूती के साथ कोर्ट में रखा था. गुरुवार के आदेश का सरकार अध्ययन करेगी और जरूरत पड़ी तो फिर से इस मामले को कोर्ट ले जाएगी.

बता दें कि एनसीपी वही पार्टी है जिसने महाराष्ट्र में डांस बार पाबंदी को लेकर बड़े आंदोलन किए थे और इसी पार्टी के दिवंगत नेता और महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री आरआर पाटिल ने साल 2005 में डांस बार पर यह कहते हुए पाबंदी लगा दी थी की डांस की आड़ में जिस्मफरोशी और अंडरवर्ल्ड से जुड़े कई अवैध धंधे होते हैं, जो समाज के लिए घातक हैं. साथ ही डांस बार भारतीय संस्कृति के खिलाफ है. डांस बार पर यह भी आरोप लगे थे कि यह अश्लीलता को बढ़ावा देती है. डांस बारो में पुरुषों की बढ़ती संख्या से कई परिवार उजड़ रहे हैं.

(न्यूज़18 के लिए अमन सय्यद की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi