S M L

मुलायम की बहू ने ट्रिपल तलाक बिल का किया समर्थन, कहा- राज्यसभा में भी मिले मंजूरी

अपर्णा यादव ने ट्रिपल तलाक बिल को केंद्र सरकार का अच्छा कदम बताते हुए इसका स्वागत किया. उन्होंने कहा कि विधेयक को राज्यसभा में भी पारित होना चाहिए

Updated On: Dec 30, 2018 05:30 PM IST

FP Staff

0
मुलायम की बहू ने ट्रिपल तलाक बिल का किया समर्थन, कहा- राज्यसभा में भी मिले मंजूरी

मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव ने एक बार फिर पार्टी लाइन से अलग स्टैंड लिया है. समाजवादी पार्टी (एसपी) के ट्रिपल तलाक बिल का विरोध करने के बावजूद अपर्णा ने इसका समर्थन किया है. उन्होंने इस बिल के संसद के उच्च सदन राज्यसभा में पास होने पर जोर दिया.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार अपर्णा यादव ने ट्रिपल तलाक बिल को केंद्र सरकार का अच्छा कदम बताते हुए इसका स्वागत किया. उन्होंने कहा कि विधेयक को राज्यसभा में भी पारित होना चाहिए.

उन्होंने लोकसभा में विधेयक पारित कराने के केंद्र सरकार के प्रयास की सराहना की. उन्होंने कहा कि अगर हम नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) को देखेंगे, तो पता चलेगा कि हमारे देश में, विशेष कर उत्तर प्रदेश में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं. न केवल महिलाओं को, बल्कि पुरुषों को भी महिला सुरक्षा कानूनों के बारे में जानकारी होनी चाहिए.

तीन तलाक बिल लोकसभा में विपक्षी पार्टियों के काफी हंगामे और वॉक आउट के बाद पास हो गया है

तीन तलाक बिल लोकसभा में विपक्षी पार्टियों के काफी हंगामे और वॉक आउट के बाद पास हो गया है

लोकसभा में पास हो चुका है, सोमवार को राज्यसभा में किया जाएगा पेश

27 दिसंबर को कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने तीन तलाक बिल को लोकसभा में पेश किया था तो समाजवादी पार्टी के बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव ने इसका विरोध किया था. उन्होंने कहा था कि तीन तलाक सामाजिक मुद्दा है और बीजेपी इस मामले का राजनीतिकरण करने की कोशिश कर रही है.

बीते गुरुवार को कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने तीन तलाक बिल लोकसभा में पेश किया था. जहां विपक्षी पार्टियों के हंगामे और सदन से वॉक आउट के बीच यह बिल पास हो गया था. सरकार अब इस बिल को साल के आखिरी दिन यानी 31 दिसंबर को राज्यसभा में पेश करने वाली है. इसे देखते हुए कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने अपने-अपने सांसदों को संसद में मौजूद रहने का व्हिप जारी किया है.

राज्यसभा में एनडीए गठबंधन के पास बहुमत नहीं है. बीजेपी 73 सीटों के साथ यहां सबसे बड़ी पार्टी है. 245 सदस्यों वाले इस सदन में एनडीए के यहां कुल 89 सदस्य हैं. जबकि यूपीए समेत विपक्षी पार्टियों की संख्या 155 है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi