S M L

MP: 'घर वापसी अभियान' से सत्ता वापसी सफर को तैयार कांग्रेस

कांग्रेस छोड़कर जाने वाले नेताओं को दोबारा पार्टी में लाने के बारे में खाका तैयार किया जाएगा

Updated On: Jan 29, 2018 08:05 PM IST

Bhasha

0
MP: 'घर वापसी अभियान' से सत्ता वापसी सफर को तैयार कांग्रेस

मध्यप्रदेश की सत्ता से डेढ़ दशक लंबा वनवास खत्म करने के लिए कांग्रेस इस साल के आखिर में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले 'घर वापसी' अभियान शुरू करने की तैयारी में जुटी है. कांग्रेस से नाता तोड़ कर बीजेपी या अन्य दलों का दामन थामने वाले नेताओं को इस अभियान के तहत दोबारा कांग्रेस में शामिल किया जाएगा. वह भी बिना शर्त.

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने एक कार्यक्रम के बाद संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस छोड़कर जाने वाले नेताओं को दोबारा पार्टी में लाने के बारे में खाका तैयार किया जाएगा.

उन्होंने कहा, 'हम अपने पूर्व नेताओं की घर वापसी कराएंगे. लेकिन मैं अभी इस बारे विस्तार से नहीं बता सकता, क्योंकि फिलहाल हमने इस अभियान की नीति तय नहीं की है. घर वापसी अभियान के बारे में कांग्रेस की कोर कमेटी से चर्चा कर फैसला किया जाएगा और सही समय पर इसकी घोषणा की जाएगी.'

कोर कमेटी से चर्चा कर तैयार होगी रूपरेखा 

बाबरिया ने कहा, 'अभी मैं बस एक बात कह सकता हूं कि कांग्रेस छोड़ने वाले नेताओं को बगैर किसी शर्त के पार्टी में दोबारा शामिल किया जाएगा.'

दिसंबर 2003 में प्रदेश में बीजेपी की सरकार बनने के बाद कांग्रेस के कई नेताओं ने पाला बदलकर सत्तारूढ़ दल का दामन थामा था. इनमें चौधरी राकेश सिंह चतुर्वेदी, डॉ. भागीरथ प्रसाद, राव उदयप्रताप सिंह के नाम प्रमुख हैं जिन्होंने नाजुक सियासी मौकों पर अचानक बीजेपी में शामिल होकर कांग्रेस को करारा झटका दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi