S M L

MP: मतगणना से पहले EVM पर छिड़ा युद्ध, स्ट्रॉन्ग रूम की लाइट बंद होने से उठे सवाल

कांग्रेस ने भोपाल के स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर लगी एलईडी के बंद होने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए निर्वाचन आयोग में शिकायत की है, वहीं दूसरी ओर सागर में बीते शुक्रवार को ईवीएम के पहुंचने पर हंगामा किया गया

Updated On: Dec 01, 2018 10:45 AM IST

FP Staff

0
MP: मतगणना से पहले EVM पर छिड़ा युद्ध, स्ट्रॉन्ग रूम की लाइट बंद होने से उठे सवाल

मध्य प्रदेश में मतदान के बाद ईवीएम को लेकर सियासी वार तेजी से बढ़ गया है. राज्य के विभिन्न स्थानों पर बने स्ट्रॉन्ग रूम की सुरक्षा पर कांग्रेस की ओर से सवाल उठाए जा रहे हैं. न्यूज 18 की रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस ने भोपाल के स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर लगी एलईडी के बंद होने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए निर्वाचन आयोग में शिकायत की है. वहीं दूसरी ओर सागर में बीते शुक्रवार को ईवीएम के पहुंचने पर हंगामा किया गया. निर्वाचन अधिकारी गड़बड़ी की आशंका को हालांकि नकार रहे हैं.

करीब डेढ़ घंटे तक स्ट्रॉन्ग रूम की लाइट बंद रही

भोपाल के विधानसभा क्षेत्रों की ईवीएम मशीनों को पुरानी जेल के परिसर में रखा गया है, मगर शुक्रवार की सुबह अचानक स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर लगी एलईडी के बंद हो जाने से हड़कंप मच गया. करीब डेढ़ घंटे तक स्ट्रॉन्ग रूम की लाइट बंद रही जिसके चलते कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं. स्ट्रॉन्ग रूम की लाइट यूं अचानक बंद हो जाने से कांग्रेस ने गड़बड़ी की आशंका जताई है. वहीं प्रशासन ने बिजली चले जाने की बीत को सामान्य कहा है. बता दें कि बीते शुक्रवार सुबह 8 बजे अचानक स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर चलने वाली एलईडी स्क्रीन बंद हो गई थी. इस एलईडी पर स्ट्रॉन्ग रूम में रखी ईवीएम मशीनों को बाहर से देखा जा सकता है.

राज्य में मतदान 28 नवंबर को हुआ था

स्क्रीन के बंद होते ही वहां मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ऐतराज जताया, साथ ही ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप भी लगाया. खबर है कि लगभग डेढ़ घंटे तक एलईडी बंद रही. राज्य में मतदान 28 नवंबर को हुआ था, उसके बाद वापस आई ईवीएम मशीनों को बीते गुरुवार को पुरानी जेल में बनाए गए स्ट्रॉन्ग रूम में रखा गया था. यहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाने के साथ पल-पल की स्थिति दिखाने के लिए सीसीटीवी कैमरे भी लगाए गए हैं. कैमरों को बाहर लगी एलईडी से जोड़ा गया है. इस तरह भीतरी स्थिति को बाहर बैठकर आसानी से देखा जा सकता है.

ईवीएम के 48 घंटे बाद मुख्यालय पहुंचने पर भी कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं

वहीं शाम को सागर से ईवीएम के मतदान के 48 घंटे बाद मुख्यालय पर पहुंचने पर भी कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं. कांग्रेस का आरोप है कि ये मशीनें खुरई विधानसभा क्षेत्र से आई हैं, जहां से प्रदेश के गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह चुनाव लड़ रहे हैं. जिस वाहन में ये मशीनें पहुंचीं, उस पर नंबर भी नहीं है, इसलिए संदेह हो रहा है. कांग्रेस के प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने बताया कि ये मशीनें बस से आई, इन्हें परीक्षण के बाद जिलाधिकारी के कार्यालय में स्थित कोषालय के स्ट्रॉन्ग रूम में रखा गया. देर से मशीन लेकर पहुंचने वाले अफसरों को बर्खास्त किया जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi