S M L

सरकार की संलिप्तता के कारण देश से फरार हो रहे हैं गबन करने वाले : मायावती

देश के सवा सौ करोड़ गरीबों, मजदूरों, किसानों, युवाओं, बेरोजगारों और अन्य मेहनतकश लोगों से किए गए 'अच्छे दिन’ के वायदे क्यों नहीं पूरे किए जा रहे हैं

Updated On: Feb 24, 2018 04:11 PM IST

Bhasha

0
सरकार की संलिप्तता के कारण देश से फरार हो रहे हैं गबन करने वाले : मायावती

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने आरोप लगाया कि सरकारी बैंकों के अरबों-खरबों रुपए का गबन करने वाले बडे़ पूंजीपति सरकार की मिलीभगत के कारण देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं .

मायावती ने एक बयान में कहा, 'बड़े-बड़े पूंजीपति और धन्नासेठ अपने निजी स्वार्थ और लाभ के लिए देशहित से घिनौना खिलवाड़ करते हुए सरकारी बैंको का अरबों-खरबों रुपयों का गबन कर रहे हैं और सरकार की संलिप्तता के कारण वे देश से फरार होने में सफल हो रहे हैं.'

उन्होंने कहा कि कुछ मुठ्ठी भर बड़े-बड़े पूंजीपतियों और धन्नासेठों के हित में तो लगातार काम किए जा रहे हैं परंतु देश के सवा सौ करोड़ गरीबों, मजदूरों, किसानों, युवाओं, बेरोजगारों और अन्य मेहनतकश लोगों से किए गए 'अच्छे दिन’ के वायदे क्यों नहीं पूरे किए जा रहे हैं जबकि इनमें ही देश का असली हित निहित है.

मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा कोयला क्षेत्र का निजीकरण करके निजी कंपनियों को कोयला खदानों में उत्पादन और इस्तेमाल की अनुमति देने के फैसले को 'धन्नासेठों का तुष्टीकरण' करने की नीति बताया .

उन्होंने कहा कि कोयला जैसी महत्त्वपूर्ण राष्ट्रीय संपत्ति का दोहन करने के लिए इसका निजीकरण करना चिंता की बात हैं.

उल्लेखनीय है कि हाल ही में केंद्र सरकार ने कोयला खनन क्षेत्र निजी कंपनियों के लिए खोल दिया है. कोयला मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि इससे कोयला क्षेत्र की क्षमता बढ़ेगी और इसे एकाधिकार से हटाकर प्रतिस्पर्धा के युग में लाया जा सकेगा .

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi