S M L

मोदी सरकार ने आतंकवादियों की कमर तोड़ी, अब पुलवामा हमले का भी लेगी सूद समेत बदला : नकवी

नकवी ने कहा, आतंकवाद पर कोई समझौता नहीं किया जा सकता. ना ही कोई नरमी बरती जा सकती है. इस तरह की जो कायरतापूर्ण हरकत हुई है उसका बदला सूद समेत लिया जाएगा

Updated On: Feb 17, 2019 05:41 PM IST

Bhasha

0
मोदी सरकार ने आतंकवादियों की कमर तोड़ी, अब पुलवामा हमले का भी लेगी सूद समेत बदला : नकवी

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने रविवार को दावा किया कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने आतंकवादियों की कमर तोड़ दी है. अब सरकार पुलवामा में हुए कायरता पूर्ण हमले का सूद समेत बदला लेगी.

यहां संवाददाता सम्मेलन में पुलवामा की वारदात का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. इस पर कोई समझौता नहीं किया जा सकता. ना ही कोई नरमी बरती जा सकती है. इस तरह की जो कायरतापूर्ण हरकत हुई है उसका बदला सूद समेत लिया जाएगा.

अपने पौने पांच साल के कार्यकाल में मोदी ने आतंकवादियों की कमर तोड़ दी है. केंद्र में जब से बीजेपी की सरकार बनी है, कश्मीर के कुछ हिस्सों को छोड़कर एक भी जगह ऐसी नहीं है जहां पर आतंकवादी हमला हुआ हो.

नकवी ने कहा कि पहले चाहे वाराणसी का संकटमोचन मंदिर हो, चाहे मक्का मस्जिद पर हमला हो, लखनऊ, वाराणसी में हमले, ऐसा कोई हिस्सा नहीं बचा था, जहां धमाके ना हुए हों, लेकिन मोदी सरकार के कार्यकाल में आतंकवादी और शैतानी ताकतें ऐसे धमाके नहीं कर पाईं.

चाहे गुनाहगार हों, या फिर उनका संरक्षण देने वाले, या उनके प्रायोजक, वे बचेंगे नहीं

पुलवामा की घटना अक्षम्य है. इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी बहुत सख्त शब्दों में कह चुके हैं कि धमाके में चाहे गुनाहगार हों, या फिर उनका संरक्षण देने वाले हों, या उनके प्रायोजक हों, वे बचेंगे नहीं. हम इस पर कोई समझौता नहीं करेंगे.

इसी के तहत पाकिस्तान को जो सबसे तरजीही राष्ट्र का दर्जा दिया गया था उसे वापस ले लिया गया है, जो अलगाववादी भारत में रहकर पाकिस्तान के गाने गा रहे थे उन पर लगाम कसनी शुरू हुई है.

इस सवाल पर कि क्या पुलवामा हमले के बाद लोकसभा चुनाव की तारीख में आगे बढ़ाई जाएंगी, नकवी ने कहा यह घटना अलग है और चुनावी प्रक्रिया अलग है.

वहीं कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू और नेता नूर बानो द्वारा पुलवामा हमले को लेकर दिए गए बयानों के बारे में पूछे जाने पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कांग्रेस को अपने नेताओं पर लगाम लगानी चाहिए. इस पार्टी में बयानबाजी की प्रतियोगिता चल रही है.

मोदी की अगुवाई में बीजेपी आम लोगों के सरोकार के संकल्प के साथ जा रही है

धारा 370 हटाने और अयोध्या में राम मंदिर बनाने के बीजेपी के वादों को पूरा नहीं किए जाने के बारे में नकवी ने कहा कि यह हमारा संकल्प रहा है. पौने 5 साल में हमने इकबाल, ईमान और इंसाफ की सरकार दी है.

'मन की बात मोदी के साथ' कार्यक्रम का जिक्र करते हुए नकवी ने कहा कि किसी भी राजनीतिक दल का ऐसा पहला कदम है. इस कार्यक्रम के तहत बीजेपी 10 करोड़ से ज्यादा लोगों से बातचीत करके चुनाव घोषणापत्र में शामिल करने के लिए सुझाव लेगी. ये सुझाव संपर्क और संवाद के माध्यम से लिए जा रहे हैं.

मोदी की अगुवाई में बीजेपी आम लोगों के सरोकार के संकल्प के साथ जा रही है. पहली बार ऐसा हो रहा है कि सरकार ने अपने पौने पांच साल के लेखेजोखों और अगले पांच साल में जो लोगों की अपेक्षाएं हैं, उसके लिए संपर्क अभियान शुरू किया है. यह कार्यक्रम एक नए और खुशहाल भारत के निर्माण के लिए है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi