S M L

मोदी सरकार के 3 साल: पॉलिसी पैरालिसिस नहीं, जल्द लिए जाते हैं फैसले

पीयूष गोयल के मुताबिक देश की अर्थव्यवस्था भी पटरी पर है और जीडीपी 7 प्रतिशत के आस-पास है

Updated On: May 28, 2017 09:45 AM IST

Amitesh Amitesh

0
मोदी सरकार के 3 साल: पॉलिसी पैरालिसिस नहीं, जल्द लिए जाते हैं फैसले

मोदी सरकार के तीन साल पूरा होने के मौके पर सरकार की तरफ से लगातार अपने काम को प्रचारित किया जा रहा है. मोदी फेस्ट के नाम पर अलग-अलग कार्यक्रमों में बीजपी नेता और मंत्री सरकार के बेहतरीन काम के लिए अपनी पीठ थपथपा रहे हैं.

इसी क्रम में केंद्रीय उर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने दिल्ली में मीडिया को दिए एक प्रेजेंटेशन के जरिए मोदी सरकार की उपलब्धियों को बताने की कोशिश की. पीयूष गोयल ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल में अब फैसले लेने में ज्यादा देरी नहीं होती बल्कि, जल्द से जल्द फैसले लेकर सरकार कामों में तेजी ला रही है.

गोयल ने इस बात के लिए हवाला दिया पर्यावरण मंत्रालय का. बकौल पीयूष गोयल अब वन और पर्यावरण मंत्रालय में फाइलों के क्लीयरेंस के लिए 600 दिनों का वक्त नहीं लगता बल्कि अब तो 180 दिनों के भीतर ही फाइलों का निपटारा हो जाता है. इससे काम में तेजी आती है.

पीयूष गोयल ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के कहने पर भी इस तरह के मामलों में सरकार तेजी ला रही है. बकौल पीयूष गोयल अमित शाह ने 180 दिनों के वक्त को और कम करने को कहा है जिससे काम में और तेजी लाई जा सके.

अगले साल तक हर गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य

सरकार की उपलब्धियों का बखान करते हुए पीयूष गोयल ने एक बार फिर से दावा किया कि अगले साल तक देश के हर गांव में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य हासिल कर लिया जाएगा. सरकार अपने वादे पर काफी तेजी से अमल कर रही है और बिना बिजली वाले 18,456 गांवों में से अब तक 13,560 गांवों में बिजली पहुंचाई जा चुकी है.

Narendra Modi BJP

पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में सरकार की खूबियों को गिनाते हुए केंद्रीय उर्जा मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि देश के भीतर कामगारों को न्यूनतम मजदूरी में 42 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

पीयूष गोयल के मुताबिक देश की अर्थव्यवस्था भी पटरी पर है और जीडीपी 7 प्रतिशत के आस-पास है. गोयल ने कहा कि इस वक्त महंगाई दर डबल डिजिट से घटकर 3 से 4 फीसदी तक रह गई है. जबकि इस साल 63 बिलियन डॉलर का एफडीआई भारत में आया है.

सरकार के ऊपर भ्रष्टाचार का एक भी दाग नहीं

इसके अलावा तीन साल के कार्यकाल में भ्रष्टाचार का एक भी आरोप सरकार के ऊपर नहीं लगा है. कालेधन और बेनामी प्रॉपर्टी के ऊपर सरकार सख्त है, जबकि कोयला  और स्पेक्ट्रम के आवंटन में भ्रष्टाचार मुक्त पारदर्शी प्रक्रिया के जरिए सरकार की और बेहतर छवि सामने आई है.

गोयल के मुताबिक मोदी सरकार के तीन साल में उज्ज्वला योजना के अंतर्गत 2 करोड़ महिलाओं को फायदा मिला और उनके घरों में गैस कनेक्शन पहुंचाया गया है. स्वच्छ भारत मिशन मोदी सरकार के कार्यकाल में शुरू की गई बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखी जा रही है.

गोयल ने इस बात पर जोर दिया कि पद्मा अवॉर्ड में उन लोगों को पहली बार जगह दी गई है जो अब तक हकदार होने के बावजूद इनसे वंचित थे. यानी पहली बार ग्रामीण क्षेत्र, आदिवासी क्षेत्र और समाज के उस तबके के चुनिंदा लोगों को पद्मा अवार्ड दिया गया जिनकी विलक्षण प्रतिभा के बावजूद वो अब तक गुमनामी में थे.

BJP Win

लाल बत्ती कल्चर के खत्म होने को भी पीयूष गोयल ने सरकार का बेहतर कदम बताया.

सरकार के तीन साल पूरा होने के मौके पर हर क्षेत्र में विकास और बेहतर काम को लेकर पीयूष गोयल की तरफ से एक-एक कर हर मंत्रालय का लेखा जोखा रखा गया. फिलहाल बीजेपी की तरफ से कोशिश इसी बात को लेकर है कि सरकार के काम-काज को जनता तक पहुंचाया जाए और इसको प्रचारित किया जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi