S M L

बीजेपी लोगों के वोट खरीदने का प्रयास कर रही है : मिजोरम के मुख्यमंत्री

नौ बार विधायक रहे मुख्यमंत्री थनहवला ने आरोप लगाए कि बीजेपी चकमा और ब्रू समुदायों के नेताओं को गुवाहाटी ले जाकर और ‘आरएसएस की विचारधारा से उनकी मति फेर कर’ उनके वोट खरीदने का प्रयास कर रही है

Updated On: Nov 26, 2018 08:13 PM IST

Bhasha

0
बीजेपी लोगों के वोट खरीदने का प्रयास कर रही है : मिजोरम के मुख्यमंत्री

मिजोरम में कांग्रेस के सत्ता में बरकरार रहने का विश्वास जताते हुए मुख्यमंत्री लल थनहवला ने सोमवार को कहा कि राज्य में अपना खाता खोलने के लिए बीजेपी को पांच वर्ष और प्रतीक्षा करनी होगी. उन्होंने आरोप लगाया कि भगवा दल धनशक्ति से वोटों को ‘खरीदने’ का प्रयास कर रहा है.

पीटीआई-भाषा को दिए साक्षात्कार में नौ बार विधायक रहे मुख्यमंत्री थनहवला ने आरोप लगाए कि बीजेपी चकमा और ब्रू समुदायों के नेताओं को गुवाहाटी ले जाकर और ‘आरएसएस की विचारधारा से उनकी मति फेर कर’ उनके वोट खरीदने का प्रयास कर रही है.

उन्होंने कहा, ‘केंद्र में सत्तारूढ़ दल के तौर पर उन्हें मिजोरम में खाता खोलने का प्रयास करना चाहिए जो वे अभी तक नहीं कर पाए हैं. उनका स्वागत है लेकिन मैं उन्हें सलाह दूंगा कि धन शक्ति से मिजोरम के लोगों को बर्बाद नहीं करें. मिजोरम में धन की कभी कोई भूमिका नहीं रही. मिजोरम में चुनाव सबसे निष्पक्ष, स्वतंत्र और शांतिपूर्ण रहा.’

खाली बर्तन तेज आवाज करता है

पिछले दस वर्षों में बीजेपी के सबसे जोरदार चुनाव प्रचार के बारे में थनहवला ने कहा, ‘खाली बर्तन तेज आवाज करता है.’ उन्होंने अनुमान जताया कि बुधवार को होने वाले 40 सदस्यीय विधानसभा चुनाव में बीजेपी को एक भी सीट मिलने की संभावना नहीं है.

चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह और जितेंद्र सिंह ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर जोरदार हमले किए और पहाड़ी राज्य में विकास नहीं होने के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया.

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाए, ‘वे चकमा और ब्रू जैसे सुक्ष्म अल्पसंख्यक इलाकों में काफी धन खर्च कर रहे हैं. उन्होंने उनके नेताओं को गुवाहाटी भेज दिया ताकि उन्हें आरएसएस की विचारधारा से ओत-प्रोत किया जा सके. हिमांता बिस्व सरमा बड़ी भूमिका निभा रहे हैं. वह काफी संख्या में ब्रू नेताओं को गुवाहाटी और अन्य स्थानों पर ले गए और उनकी मति फेरने का प्रयास कर रहे हैं.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘वह धन शक्ति से उन्हें खरीदने का प्रयास कर रहे हैं. मुझे नहीं पता कि वह कितनों को खरीद सकते हैं. लेकिन मैंने उनसे (चकमा और ब्रू से) कहा कि उन्हें अपनी परंपरा नहीं भूलनी चाहिए. लोग उन्हें खरीदने का प्रयास कर रहे हैं. अन्यथा वह केवल सुक्ष्म अल्पसंख्यक वाले इलाकों पर ध्यान क्यों केंद्रित करते?’

यह पूछने पर कि असम के मंत्री और बीजेपी नेता सरमा ने बयान दिया था कि मिजोरम कांग्रेस के साथ बीजेपी गठबंधन कर सकती है, तो थनहवला ने इससे इंकार किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi