S M L

यूपीएससी: अल्पसंख्यक मंत्रालय कराएगा 15,000 अल्पसंख्यक युवाओं को कोचिंग

केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय कराएगा 15,000 अल्पसंख्यक युवाओं को यूपीएसी और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी.

Updated On: May 11, 2018 03:49 PM IST

Bhasha

0
यूपीएससी: अल्पसंख्यक मंत्रालय कराएगा 15,000 अल्पसंख्यक युवाओं को कोचिंग

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शुक्रवार को कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय साल 2018 में अल्पसंख्यक समुदायों के 15 हजार से अधिक लड़के-लड़कियों को यूपीएससी और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए मदद करेगा.

नकवी ने यह घोषणा सिविल सेवा 2017 में अल्पसंख्यक मंत्रालय की फ्री-कोचिंग प्राप्त कर सिविल सेवा 2017 के सफल अभ्यर्थीयों को शुक्रवार को सम्मानित करते हुए की.

इस मौके पर नकवी ने संवाददाताओं से कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय प्रतिभाओं के प्रोत्साहन, प्रमोशन एवं प्रोग्रेस के लिए बड़े पैमाने पर बेहतर प्रयास कर रहा है. हमारी कोशिश रहेगी की कोई भी प्रतिभाशाली युवा सिविल सेवा, मेडिकल, इंजीनियरिंग, और अन्य प्रशासनिक सेवाओं, बैंकिंग आदि परीक्षाओं में पास हो कर बेहतर नौकरी पा सकेगा.

उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय तमाम अच्छे संस्थानों के साथ मिलकर प्रतिभावान युवाओं को सिविल सेवा, मेडिकल, इंजीनियरिंग, अन्य प्रशासनिक सेवाओं, बैंकिंग आदि के लिए बड़े पैमाने पर फ्री-कोचिंग मुहैया करा रहा है. इस साल भी देश भर से 15 हजार से ज्यादा युवाओं को फ्री-कोचिंग दी जाएगी.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार की बिना भेदभाव के सम्मान के साथ सशक्तिकरण की नीति का नतीजा है कि सिविल सर्विस में आजादी के बाद इस साल सबसे ज्यादा अल्पसंख्यक समाज के 131 युवा चुने गए हैं, जिनमें 51 मुस्लिम समाज से हैं.

नकवी ने सिविल सेवा परीक्षा में चयनित शेख सलमान, मोहम्मद नूह सिद्दीकी, सैयद अली अब्बास, जुनैद अहमद, मोहम्मद नदीम, फुरकान अख्तर, फजीजुल हसन को सम्मानित किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi