Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

महाराष्ट्र में बीजेपी मध्यावधि चुनाव पर कर रही है विचार

महाराष्ट्र और केंद्र में बीजेपी के सहयोगी दल रहने के बावजूद शिवसेना ने सरकार की नीतियों पर हमला जारी है

Bhasha Updated On: Mar 24, 2017 10:31 PM IST

0
महाराष्ट्र में बीजेपी मध्यावधि चुनाव पर कर रही है विचार

अपने सहयोगी दल शिवसेना से लगातार दबाव का सामना कर रही बीजेपी महाराष्ट्र में मध्यावधि चुनाव पर विचार कर रही है. दरअसल, पार्टी में कई लोगों का मानना है कि अपने बूते पर बहुमत हासिल करने के लिए माहौल अनुकूल है.

प्रदेश बीजेपी की कोर कमेटी की गुरूवार शाम को हुई बैठक में मध्यावधि चुनाव सहित कई संभावित परिदृश्यों पर विचार किया गया.

राजनीतिक परिदृश्य पर हुई चर्चा 

बीजपी के एक सूत्र ने बताया, ‘सत्तारूढ़ शासन में शिवसेना की साझेदार नहीं रहने की स्थिति में पैदा होने वाले राजनीतिक परिदृश्य पर चर्चा हुई.’ सूत्र ने बताया कि मध्यावधि चुनाव होने की संभावना पर चर्चा की गई.

सूत्र ने बताया कि शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में निगेटिव कमेंट सहित पार्टी की अन्य हरकतों के खिलाफ कार्रवाई करने पर आमराय है.

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड विधानसभा चुनावों में बीजेपी के शानदार प्रदर्शन और महाराष्ट्र में लोकल बॉडी इलेक्शन में प्रभावशाली प्रदर्शन ने राज्य में पार्टी को मजबूत बनाया है.

सूत्र ने कहा कि कुछ विधायकों के अन्य पार्टियों को छोड़ने और बीजेपी के टिकट पर फिर से चुने जाने पर भी चर्चा हुई.

बैठक में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी शामिल

बैठक में हिस्सा लेने वाले नेताओं में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस भी शामिल हैं. यह बैठक राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल के आधिकारिक आवास पर हुई.

साल 2014 का विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना ने अलग अलग चुनाव लड़ा था. तब बीजेपी सबसे बड़े दल के रूप में उभरी थी. इसके कुछ महीनों बाद शिवसेना भगवा गठबंधन में लौटी थी लेकिन मनचाहा विभाग पाने में नाकाम रही थी.

महाराष्ट्र और केंद्र में बीजेपी के सहयोगी दल रहने के बावजूद शिवसेना ने सरकार की नीतियों पर हमला जारी है. यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी तंज कसे.

स्थानीय निकाय चुनाव में शिवसेना और बीजेपी के बीच संबंध बदतर हो गए. ये चुनाव उन्होंने अलग-अलग लड़े.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi