S M L

मेट्रो उद्घाटन में केजरीवाल को नहीं बुलाने पर 'आप' नाराज, मनोज तिवारी का भी पलटवार

विकास की बात हर पार्टी करती है मगर विकास के प्रोजेक्ट्स पर राजनीति भी खूब होती है

Updated On: Dec 25, 2017 07:37 PM IST

Amitesh Amitesh

0
मेट्रो उद्घाटन में केजरीवाल को नहीं बुलाने पर 'आप' नाराज, मनोज तिवारी का भी पलटवार
Loading...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली मेट्रों के फेज-3 में मैजेंटा लाइन के उद्घाटन के मौके पर अपने संबोधन में कहा कि कोई विषय ऐसा नहीं होता जिस पर राजनीति का रंग न लगाया जाए. मोदी यह संदेश देना चाह रहे थे कि विकास के काम को लेकर किसी तरह का कोई राजनीतिक रंग न दिया जाए, इसे राजनीतिक चश्मे से न देखा जाए.

लेकिन, विडंबना है कि किसी भी काम में श्रेय लेने की होड़ ही विकास को भी सियासत से अछूता नहीं रख पाती है. दिल्ली मेट्रो की मैजेंटा लाइन के उद्घाटन के मौके पर नोएडा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, यूपी के राज्यपाल राम नाईक, केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी, केंद्रीय मंत्री और गौतमबुद्ध नगर के सांसद डॉ. महेश शर्मा और नोएडा के विधायक पंकज सिंह भी मौजूद थे.

उत्तर प्रदेश के नोएडा में बोटानिकल गॉर्डेन से लेकर दक्षिण दिल्ली में कालकाजी मंदिर तक चलने वाली इस लाइन पर मेट्रो को हरी झंडी दिखाने के बाद प्रधानमंत्री  मोदी ने खुद मेट्रो की सवारी भी की. लेकिन, इस दौरान प्रधानमंत्री के साथ-साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे. यहां तक कि बीजेपी के यूपी अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे भी प्रधानमंत्री के साथ थे.

मैजेंटा लाइन के उद्घाटन का पूरा कार्यक्रम नोएडा में ही था लिहाजा बीजेपी के नेताओं के अलावा केंद्र और यूपी सरकार के ही प्रतिनिधि यहां दिख रहे थे. यही बात दिल्ली में सरकार चला रही आप को अखर गई.

केजरीवाल को न्योता न देने से ‘आप’ नाराज

kejariwal

इस पूरे कार्यक्रम के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को न्योता ना मिलने को लेकर उनकी पार्टी भड़क गई. आम आदमी पार्टी के नेता इसे जान-बूझकर नहीं बुलाए जाने की बात कहने लगे.

फर्स्टपोस्ट से बातचीत में आप के नेता राघव चड्ढा ने अपनी नाराजगी जताते हुए इसे बीजेपी का डर बता दिया. चड्ढा का कहना था कि ‘मैजेंटा लाइन का जो उद्घाटन किया गया है उसमें तीन चौथाई हिस्सा दिल्ली में जबकि सिर्फ एक चौथाई हिस्सा यूपी में आता है. दूसरी तरफ, दिल्ली मेट्रो में केंद्र और दिल्ली सरकार का बराबरी का हक है क्योंकि दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार दोनों की बराबर की हिस्सेदारी है. ऐसे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उद्घाटन में न बुलाया जाना केंद्र सरकार की ईर्ष्या, द्वेष और असुरक्षा को दर्शाता है.’

आप ने इस पूरे मुद्दे को दिल्ली की जनता का अपमान भी बता दिया. राघव चड्ढा का कहना है कि ‘दिल्ली के मुख्यमंत्री को न बुलाया जाना अरविंद केजरीवाल का अपमान नहीं है, बल्कि ये दिल्ली की पूरी जनता का अपमान है.’ आप ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि वो दिल्ली मेट्रो के किराए को कम करें जो कि पिछले दिनों ही बढ़ाया गया है.

आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में मेट्रो के मुद्दे को लेकर केंद्र की बीजेपी सरकार पर दबाव बढाने की कोशिश शुरू कर दी है. जिस तरीके से मजेंटा लाइन के उद्घाटन के मौक पर पूरे कार्यक्रम को नोएडा में ही केंद्रित कर इसे देश और यूपी के विकास से जोड़ कर पेश किया गया इस पर आम आदमी पार्टी विफर गई है. आप की परेशानी इस बात को लेकर है कि दिल्ली मेट्रो के नए रूट की शुरुआत का श्रेय उसे न मिलकर सीधे मोदी-योगी ने ले लिया.

इस मुद्दे पर आप को कांग्रेस का भी साथ मिल गया. कांग्रेस के दिल्ली अध्यक्ष अजय माकन ने भी कुछ पुरानी तस्वीर ट्वीट कर यह बताने की कोशिश की है कि कैसे 2002 में दिल्ली मेट्रो के उद्घाटन के कार्यक्रम में अजय माकन और तब दिल्ली की मुख्यमंत्री रही शीला दीक्षित को जानबूझ कर फोटो फ्रेम से बाहर किया जाता रहा.

बीजेपी ने दिखाया ‘आप’ को आईना

लेकिन, इन सारे सवालों को लेकर बीजेपी ने भी अपने ही अंदाज में पलटवार किया है. बीजेपी के दिल्ली अध्यक्ष और उत्तर-पूर्वी दिल्ली से सांसद मनोज तिवारी ने फर्स्टपोस्ट से बातचीत के दौरान आप के इन आरोपों की हवा निकालने की पूरी कोशिश की.

black flag

मनोज तिवारी ने अरविंद केजरीवाल और आप को खुद अपने गिरेबान में झांकने की नसीहत देते हुए कहा कि ‘अभी पिछले हफ्ते ही उत्तर –पूर्वी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में एक रोड में यू-टर्न के उद्घाटन के मौके पर मुझे नहीं बुलाया जबकि उस इलाके के सांसद होने के चलते हमें बुलाया जाना चाहिए था.’

मनोज तिवारी का कहना है कि ‘बुराड़ी में यू-टर्न का यह काम तब शुरू हुआ था जब दिल्ली में राष्ट्रपति शासन था. उस दौरान मेरे प्रयासों से ही यह काम शुरू हुआ था. लेकिन, एक यू-टर्न के उद्घाटन में वहां के स्थानीय सांसद के नाते मुझे नहीं बुलाया गया.’

मनोज तिवारी का केजरीवाल पर पलटवार

मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला बोलते हुए सवाल खड़ा किया है कि खुद तो यूपी जाने की ख्वाहिश रखने वाले केजरीवाल दिल्ली में यह सब क्या कर रहे हैं. दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष का कहना है कि ‘उत्तर-पूर्वी दिल्ली क्षेत्र की जनता ने अरविंद केजरीवाल को यू-टर्न उद्घाटन के मौके पर काले झंडे दिखाकर उनका विरोध भी किया.’

दरअसल, दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने अरविंद केजरीवाल को अपने ही गिरेबान में झांकने की नसीहत देते हुए आप की उस मंशा पर उल्टा ही सवाल खड़ा कर दिया है.

आप को कठघरे में खड़ा करते हुए बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री से सवाल पूछा है कि ‘दिल्ली मेट्रो के फेज-4 के लिए आखिरकार इस तरह पैसे रिलीज करने में देरी क्यों कर रहे हैं.’ मनोज तिवारी ने दिल्ली सरकार पर मेट्रो के फेज-4 में देरी का आरोप भी लगा दिया है.

दरअसल दिल्ली में कई दूसरे मुद्दों को लेकर भी आप की दिल्ली सरकार और बीजेपी की केंद्र सरकार में आरोप-प्रत्यारोप होता रहा है. लेकिन, अब दिल्ली मेट्रो के उद्घाटन के मौके पर आप की नाराजगी ने फिर से बीजेपी के साथ उसकी तनातनी को और बढ़ा दिया है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi